भाजपा राष्ट्रीय महामंत्री सरोज पांडेय ने भेजी मुख्यमंत्री भूपेश को राखी, पूर्ण शराब बंदी का माँगा उपहार
भाजपा राष्ट्रीय महामंत्री सरोज पांडेय ने भेजी मुख्यमंत्री भूपेश को राखी, पूर्ण शराब बंदी का माँगा उपहार
news

भाजपा राष्ट्रीय महामंत्री सरोज पांडेय ने भेजी मुख्यमंत्री भूपेश को राखी, पूर्ण शराब बंदी का माँगा उपहार

news

रायपुर 23 जुलाई (हि.स.)। भाजपा राष्ट्रीय महामंत्री सरोज पाण्डेय ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को राखी के साथ एक पत्र भेजा है। सरोज पाण्डेय ने कोरोना की वजह से देश में लगे लॉक डाउन के दौरान शराब दुकानें बंद रहने से प्रदेश में घरेलू हिंसा के अपराध में कमी का भी जिक्र करते हुए कहा कि शराब दुकान चालू हो जाने से फिर से प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ होने वाले तमाम अपराधों में कमी आई थी। उपहार के बदले प्रदेश में पूर्ण शराब बंदी की मांग की है। उऩ्होंने सीएम को कांग्रेस का आम जनता से किया गया शराबबंदी का वादा भी याद दिलाया। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुखिया होने के नाते बहनों की इस पीड़ा को वो दूर करें और राखी के इस मौके पर उपहार के तौर पर शराबबंदी के वादे को पूरा करने कहा है। सरोज पांडेय ने पत्र में लिखा है कि, आपका वादा जो आपने कांग्रेस अध्यक्ष पद पर रहते हुए, चुनावी घोषणा पत्र में छत्तीसगढ़ की सभी माताओं-बहनों के साथ किया था, आपने उन्हें विश्वास दिलाया था, की छत्तीसगढ़ प्रदेश में कांग्रेस पार्टी की सरकार बनेगी, तो प्रदेश में पूर्ण शराबबंदी लागू की जाएगी। आपके वादे पर छत्तीसगढ़ की बहनों ने आपको दोनों हाथों से आशीर्वाद दिया और आप पर विश्वास किया, जिसके फलस्वरूप आप छत्तीसगढ़ प्रदेश के मुख्यमंत्री के पद पर आसीन हुए। छत्तीसगढ़ प्रदेश की संस्कृति में बहनों का विशेष महत्व है। तीजा-पोरा, राखी यह बहनों के त्यौहार हैं। अपने भाइयों के लिए छत्तीसगढ़ की हर महिला वर्षभर तीजा व रक्षाबंधन का इंतजार करती है, और भाई भी उसे कुछ ना कुछ उपहार देता है। आज कोरोना वैश्विक महामारी से पूरा देश ग्रसित है, हमारा छत्तीसगढ़ भी इससे अछूता नहीं है। 40 दिनों के लॉकडाउन में बहनों पर होने वाली घरेलू हिंसाओं पर कमी आई थी, परन्तु लॉकडाउन समाप्त होने के बाद और शराब दुकानों के पुनः शुरू होने के साथ ही अत्याचार की शुरुआत पुनः हो गयी है। एक माँ का बच्चा जब नशे के हालात में डूबे अपने पिता से अपनी माँ को पीटते हुए देखता है, तो उस बच्चे के मन की पीड़ा उस दर्द को आप भलीभांति समझ सकते होंगे, अपने पति से रोज़ पिटती, उस बहन की पीड़ा भी असहनीय होती है। प्रदेश के मुखिया होने के नाते बहनों की इस पीड़ा को दूर करें। आपकी यह बहन आपको याद दिलाती है, कि प्रदेश के मुख्यमंत्री का राजधर्म जनता से किए वादे को पूरा करना है। इस रक्षाबंधन में छत्तीसगढ़ की बहनों को उपहारस्वरूप कांग्रेस पार्टी का पूर्ण शराबबंदी का वादा पूरा कर यह भेंट अवश्य देंगे। हिन्दुस्थान समाचार / गेवेन्द्र पटेल-hindusthansamachar.in