Bilaspur: Government is continuously lying to farmers, farmers forced to commit suicide
Bilaspur: Government is continuously lying to farmers, farmers forced to commit suicide
news

बिलासपुर:सरकार किसानों से लगातार झूठ बोल रही है, किसान आत्महत्या के लिए मजबूर

news

बिलासपुर: 13 जनवरी को 90 विधानसभा क्षेत्रों में भाजपा का एक साथ धरना प्रदर्शन बिलासपुर/रायपुर , 09 जनवरी (हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी प्रदेश उपाध्यक्ष और बिलासपुर संगठन प्रभारी मोतीलाल साहू ने कहा है कि प्रदेश की हालत बहुत नाजुक है। कांग्रेस सरकार किसानों से लगातार झूठ बोल रही है। किसान आत्महत्या के लिए मजबूर हैं। किसानों का रकबा कम होने से जनता में भयंकर आक्रोश है। सरकार समर्थन मूल्य देने में नाकाम साबित हुई है। अपनी गलतियों का ठीकरा केन्द्र सरकार पर फोड़ रही है। लेकिन यह बहानेबाजी नहीं चलेगी। इसलिए भाजपा ने फैसला किया है कि 13 जनवरी को 90 विधानसभा में एक साथ धरना प्रदर्शन किया जाएगा। इसके अलावा 22 जुलाई को सभी भाजपा प्रदेश स्तर पर सभी जिलों में एक साथ व्यापक धरना प्रदर्शन करेंगे। जनता के बीच पहुंचकर प्रदेश कांग्रेस सरकार को घेरने शुक्रवार की शाम भाजपा नेताओ की वैठक हुई। बैठक को जिला संगठन और प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष ने कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों के साथ बैठक की है। इस दौरान पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल और विधानसभा नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने धरना प्रदर्शन की रणनीति पर प्रकाश डाला। पत्रकार वार्ता में धरम और मोतीलाल साहू ने कहा कि भाजपा नेता 13 जनवरी को एक साथ प्रदेश के सभी 90 विधानसभा में धरना प्रदर्शन करेंगे। इसके साथ ही सरकार की किसानों के साथ की गयी वादाखिलाफी को केन्द्र में रखकर प्रदेश स्तर पर 22 जनवरी को सभी जिलो में धरना प्रदर्शन किया जाएगा। मोतीलाल साहू ने बताया कि सत्ता हासिल करने कांग्रेस नेताओं ने किसानों और आम जनता के छल कपट किया है। लोकलुभावन जनघोषणा पत्र तैयार कर सत्ता पर काबिज भी हो गए। लेकिन कर्ज माफी के समय भेदभाव किया गया। किसी का कर्ज माफ हुआ तो किसी को आज तक कर्ज माफी का इंतजार है। मोतीलाल और धरम ने बताया कि कांग्रेस ने अपने जनघोषणा पत्र में प्रति क्विटंल धान खरीदी मूल्य 2500 देने का वादा किया था। लेकिन अभी तक किसानों को धान का समर्थन मूल्य नहीं दिया गया। अब तक न्याय योजना की चर्चा नहीं थी,लेकिन सरकार समर्थन मूल्य नहीं देकर दस हजार रूपए किसानों को दे रही है। मोतीलाल ने कहा कि छत्तीसगढ़ के किसानों ने गिरदावली को सुना तो था..लेकिन पहली बार कांग्रेस सरकार में देखने को भी मिला। बिना बताए किसानों का रकवा कम कर दिया। बाद में औपचारिकता के नाम पर त्रुटि सुधारे जाने का अभियान चलाया गया। भाजपा नेताओं ने जानकारी दी कि आज प्रदेश में किसानों की हालत बद से बदतर है। हजारों मीट्रिक टन धान को सड़ाया जा रहा है। वारदाना के सवाल पर धरमलाल कौशिक ने बताया कि व्यवस्था करना राज्य सरकार का काम है। वारदाना को लेकर सरकार लगातार झूठ बोल रही है। सदन में कुछ और सदन के बाहर कुछ बताया जा रहा है। हिन्दुस्थान समाचार /उपेंद्र /केशव-hindusthansamachar.in