bhilai-in-the-name-of-making-a-partner-in-the-hotel-business-in-west-bengal-cheating-of-1-crore-33-lakh-from-three-bhilai-businessmen
bhilai-in-the-name-of-making-a-partner-in-the-hotel-business-in-west-bengal-cheating-of-1-crore-33-lakh-from-three-bhilai-businessmen
news

भिलाई : पश्चिम बंगाल में होटल व्यवसाय में पार्टनर बनाने के नाम पर भिलाई के तीन व्यवसायियों से 1 करोड़ 33 लाख की ठगी

news

भिलाई नगर, 27 जनवरी (हि. स.)। सिलीगुड़ी पश्चिम बंगाल में होटल व्यवसाय में पार्टनर बनाने के नाम पर भिलाई के तीन व्यवसायियों से एक करोड़ 33 लाख रुपये की ठगी करने वाले तीन आरोपितों के खिलाफ जामुल पुलिस द्वारा बुधवार को अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है। ठगी के शिकार भिलाई के व्यवसायियों द्वारा 5 वर्ष पूर्व आरटीजीएस के माध्यम से आरोपित के खाते में रकम ट्रांसफर की गई थी। वस्तुस्थिति यह है कि 5 साल बाद भी भिलाई के व्यवसायियों को आज पर्यंत तक ना रुपये वापस मिले ना होटल का व्यवसाय शुरू हो पाया है। जामुल पुलिस ने बताया कि सईद एजाज पिता स्वर्गीय अब्दुल कलीम कुरैशी उम्र 42 साल, निवासी प्लॉट 17 अय्यप्पा नगर, कोहका भिलाई में रहता है। दोस्त प्रमोद तिवारी एवं मोनेश साहू रायपुर ने शहीद एजाज को बताया कि होटल व्यवसाय सिलीगुड़ी पश्चिम बंगाल स्थित उसके पार्टनर राकेश कुमार श्रीवास्तव के साथ चल रहा है, वहां पर आपका पैसा बहुत ही सुरक्षित व प्रॉफिटेबल रहेगा और बाकी की जिम्मेदारी हम लोगों की रहेगी। बिजनेस पैसा बनाने के प्रलोभन इन लोगों के द्वारा दिए गए। इसके बाद उक्त व्यक्ति लोग अपने कथित सिलीगुड़ी बंगाल निवासी पार्टनर राकेश कुमार श्रीवास्तव को रायपुर बताया व सईद को व्यवसाय में पैसे लगाने के लिए प्रलोभन दिलवाया। इसके बाद प्रमोद तिवारी ने मोनेश साहू के द्वारा सिलीगुड़ी बंगाल ले जाया गया, जहां पर नक्सलवाड़ी स्थित जगह पर एक 6 मंजिल का निर्माणाधीन होटल दिखाया वह बताया गया जिसमें 1 करोड़ रुपये लगाने की बात बताई। सईद एजाज एवं बिजनेस पार्टनर संतोष के द्वारा अलग-अलग किस्तों में 27 दिसंबर 2016 से 24 जनवरी 2017 तक मां शारदा रेसीडेसी के अकांउट में हमरे फर्म केएसके कंट्रक्शन के द्वारा आरटीजीएस के माध्यम से राकेश कुमार श्रीवास्तव एवं कृष्ण चंद श्रीवास्तव के बैंक खाते में 33,40,000 रुपये जमा कराया है। राकेश कुमार श्रीवास्तव सिलीगुड़ी बंगाल निवासी रायपुर न्यायालय आकर संबंधित व्यवसाय का नोटरी समझ लिखित में एग्रीमेंट अनुबंध व्यवसाय व लेनदेन का विवरण सहित अनुबंध किया गया। व्यवसाय होने या ना होने की स्थिति में रकम सुरक्षित वापस करने हेतु राकेश कुमार श्रीवास्तव निवासी के द्वारा 3 इलाहाबाद बैंक के व एक इंडियन बैंक का चेक दिया गया है जो कि आज दिनांक तक व्यवसाय होटल चालू नहीं किया गया है और ना ही लाभांश दिया जा रहा है। राकेश श्रीवास्तव के द्वारा धोखाधड़ी कर होटल व्यवसाय में पार्टनर बनाने के नाम पर शहीद एजाज उनके पार्टनर संतोष अग्रवाल एवं नेहरू नगर निवासी ज्ञानेश्वर सिंह से कुल एक करोड़ 33 लाख 40 हजार रकम ले लिया है। झूठा आश्वासन देकर मुझे 5 वर्षों से गुमराह कर परेशान किया जा रहा है। इस प्रकार से सईद एजाज उसके पार्टनर संतोष अग्रवाल से 33 लाख 40 हजार एवं ज्ञानेश्वर सिंह निवासी नेहरू नगर से आरटीजीएस के माध्यम से एक करोड़ रुपये की धोखाधड़ी करने वाले राकेश कुमार श्रीवास्तव प्रमोद तिवारी एवं मोनेश साहू के खिलाफ जामुल पुलिस द्वारा भादवि की धारा 420 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/अभय जवादे-hindusthansamachar.in