मां भगवती की आराधना से होता है नई ऊर्जा का संचारः प्रेमदास

मां भगवती की आराधना से होता है नई ऊर्जा का संचारः प्रेमदास
मां भगवती की आराधना से होता है नई ऊर्जा का संचारः प्रेमदास

हरिद्वार, 23 जून (हि.स.)। नीलेश्वर महादेव मंदिर के परमाध्यक्ष महंत प्रेमदास महाराज ने कहा है कि मां भगवती की आराधना से देश में नई ऊर्जा का संचार होता है। जो संपूर्ण वातावरण को भक्तिमय बनाकर व्यक्ति में ज्ञान का संचार करता है। नील पर्वत स्थित नीलेश्वर महादेव मंदिर के प्रांगण में गुप्त नवरात्र के दूसरे दिन मां भगवती की आराधना से पूर्व भक्तों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि मां की शक्ति जगत में अपरंपार है। जो अनादि काल से अपने भक्तों का कल्याण करती चली आ रही है। देवी मां भक्तों की सूक्ष्म आराधना से ही प्रसन्न होकर उन्हें मनवांछित फल प्रदान करती है। और नवरात्रों में की गयी मां की उपासना विशेष पुण्य फलदायी होती है। उन्होंने कहा कि मां की शरण में जो व्यक्ति आ जाता है, उसका स्वतः ही जीवन उन्नति की ओर अग्रसर हो जाता है। उन्होंने कहा कि देश से कोरोना जैसी महामारी को दूर भगाना है तो श्रद्धालु भक्तों को मां की आराधना करनी होगी। ऐसा करने से देश से कोरोना जैसी बीमारी दूर होगी और लद्दाख सीमा पर चीन के साथ चल रहे विवाद में देश की जीत होगी। मां की कृपा से पूरे विश्व में भारत का मान बढ़ेगा। मां की भक्ति और शक्ति से युद्ध जैसे हालात समाप्त होंगे। देश में सुख -समृद्धि का वातावरण बनेगा। कोरोना से उत्पन्न हुए विपरीत हालात दूर होंगे। पूरे विश्व का कल्याण होगा। महंत प्रेमदास महाराज ने कहा कि शत्रुओं का नाश करने वाली मां दुर्गा की आराधना से साधक के सभी मनोरथ सिद्ध होते हैं। सभी को विधि- विधान से मां की आराधना करनी चाहिए। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत/मुकुंद-hindusthansamachar.in