बड़ी खबरें

रोहिंग्या : मुस्लिम देशों की बेरुखी

रोहिंग्या : मुस्लिम देशों की बेरुखी

इसके पहले इराक और सीरिया के मुस्लिम शरणार्थियों के लिए यूरोप को मानवाधिकार का पाठ पढ़ाने वाले इस्लामिक देश तब भी अपने मुल्क में मुस्लिम शरणार्थियों को बसाने को लेकर खामोश थे और ये खामोशी बदस्तूर  है यूरोप के विकसित देशों में शुमार तुर्की ने तो बांग्लादेश आने वाले रोहिंग्या मुसलमानों पर होने वाले खर्च की जिम्मेदारी उठाने की बकायदा घोषणा भी की है तुर्की के राष्ट्रपति की पत्नी बंगलादेश आकर रोहिंग्या को गले लगाती हैं उनकी दयनीय हालत पर आंसू भी बहाती हैं लेकिन किसी पीड़ित रोहिंग्या को साथ नहीं ले जातीं अपने परमाणु बम को इस्लामिक परमाणु बम का नाम देकर मुसलमानों की सरपरस्ती
www.samaylive.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »

अन्य सम्बन्धित समाचार


©Copyright Indicus Netlabs 2018. Raftaar ® is a registered trademark of Indicus Netlabs Pvt. Ltd.