डीएमके-की-मांग-सुप्रीम-कोर्ट-के-निर्णयों-का-तमिल-में-हो-अनुवाद |Baalu Tamilnadu Tamil Language Judgement डीएमके सुप्रीम कोर्ट निर्ण तमिल अनुवाद Hindi Latest News 


बड़ी खबरें

डीएमके की मांग- सुप्रीम कोर्ट के निर्णयों का तमिल में हो अनुवाद

डीएमके की मांग- सुप्रीम कोर्ट के निर्णयों का तमिल में हो अनुवाद

द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) नेता टीआर बालू ने भारत के मुख्य न्यायाधीश से मुलाकात की और तमिल को राजकीय भाषा की सूची में शामिल करने की मांग की साथ ही डीएमके नेता ने मांग की कि सुप्रीम कोर्ट के निर्णयों का तमिल भाषा में भी अनुवाद किया जाए डीएमके नेता ने कहा कि दुनिया में तमिल 80 मिलियन लोगों द्वारा बोली जाती है इसके अलावा एक बड़ी संख्या के लोगों की ये मातृभाषा है तमिल भारत के राज्य तमिलनाडु की राजभाषा है और भारत के संविधान में शामिल 22 भाषाओं में से एक है डीएमके नेता टीआर बालू ने आगे कहा कि इसके अलावा तमिल अंडमान निकोबार और पुदुच्चेरी की भी राजभाषा है तमिल भारत का अविभाजित हिस्सा
aajtak.intoday.in
पूरी स्टोरी पढ़ें »

अन्य सम्बन्धित समाचार


aajtak.intoday.in से अधिक समाचार