वाहन चालकों के लिए काम की खबर, 3 महीने के चार्ज पर मिलेगा एक साल का पॉल्यूशन सर्टिफिकेट

वाहन चालकों के लिए काम की खबर, 3 महीने के चार्ज पर मिलेगा एक साल का पॉल्यूशन सर्टिफिकेट
वाहन चालकों के लिए काम की खबर, 3 महीने के चार्ज पर मिलेगा एक साल का पॉल्यूशन सर्टिफिकेट

नई दिल्ली। सड़क पर वाहनों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है और यह देश में प्रदूषण का एक प्रमुख कारण भी है। इसी वजह से परिवहन मंत्रालय ने सड़कों पर चलने वाले हर वाहन के लिए पॉल्यूशन सर्टिफिकेट अनिवार्य कर रखा है।

अगर आपकी गाड़ी का पॉल्यूशन सर्टिफिकेट नहीं है तो आपको भारी भरकम जुर्माना देना पड़ सकता है। यहां तक कि जुर्माने के साथ-साथ ड्राइविंग लाइसेंस भी 3 महीने के लिए सस्पेंड हो सकता है। लाइसेंस सस्पेंड होने के साथ आपको जेल की हवा भी खानी पड़ सकती है।

हाल ही में दिल्ली परिवहन विभाग ने एक पब्लिक नोटिस में कहा है कि वैध पीयूसी सर्टिफिकेट के बिना वाहन चालकों को पकड़े जाने पर 6 महीने की कैद या 10,000 तक का जुर्माना या दोनों लगाया जा सकता है। सिर्फ दिल्ली ही नहीं, देश के लगभग हर राज्य में यही नियम अब सख्ती से लागू है।

केंद्रीय मोटर वाहन नियम, 1989 के अनुसार, सीएनजी या एलपीजी पर चलने वाले वाहनों समेत हर वाहन के लिए एक वैध पीयूसी प्रमाणपत्र होना जरूरी हैं। बता दें कि वाहनों से निकलने वाले प्रदूषण फैलाने वाले तत्वों जैसे कार्बन डाईऑक्साइड और कार्बन मोनोऑक्साइड के लिए उनकी नियमित जांच की जाती है। इनकी जांच के बाद ही पॉल्यूशन चेक सर्टिफिकेट दिया जाता है।

एक साल के लिए कराएं प्रदूषण जांच

बता दें कि पहले गाड़ियों की पीयूसी जांच 3 महीने के लिए होती थी, लेकिन अब इस बढ़ाकर एक साल तक के लिए कर दिया गया है। सबसे जरूरी बात कि एक साल के पॉल्यूशन सर्टिफिकेट के लिए आपको अलग से कोई चार्ज नहीं देना पड़ेगा। जो चार्ज आप 3 महीने के पॉल्यूशन सर्टिफिकेट के लिए देते हैं, उसी चार्ज में आप एक साल का सर्टिफिकेट ले सकते हैं। दुपहिया वाहन के लिए 70 रुपये में और कार का पॉल्यूशन सर्टिफिकेट 100 रुपये में हासिल किया जा सकता है।

बता दें कि एक साल का पॉल्यूशन सर्टिफिकेट केवल बीएस-4 और उसके बाद की गाड़ियों के लिए ही होता है। उससे पहले की गाड़ियों के लिए केवल 3 महीने का ही सर्टिफिकेट दिया जाएगा। अब पॉल्यूशन सर्टिफिकेट ऑनलाइन भी बनवाया जा सकता है।

Related Stories

No stories found.