आप नहीं जानते होंगे PAN Card के फायदे, यहां जानें कैसे बनेगा और कहां काम आएगा?

आप नहीं जानते होंगे PAN Card के फायदे, यहां जानें कैसे बनेगा और कहां काम आएगा?
आप नहीं जानते होंगे PAN Card के फायदे, यहां जानें कैसे बनेगा और कहां काम आएगा?

नई दिल्ली: Know About Pan Card: किसी भी वित्तीय लेनदेन के लिए पैन कार्ड (Importance of Pan Card) भारत में एक बेहद महत्वपूर्ण दस्तावेज है। चाहे बैंक खाता खुलवाना हो या टैक्स भरना हो, पैन कार्ड के बिना यह काम लगभग असंभव है। भारत में नोटबंदी के बाद केंद्र सरकार द्वारा पैन कार्ड को आधार कार्ड (Pan Aadhaar Link) से लिंक करने की प्रक्रिया शुरू की गई, जिसके जरिए यह सुनिश्चित किया जा रहा है कि किसी भी व्यक्ति के पास एक से अधिक पैन कार्ड ना हों।

क्या है पैन कार्ड (What is Pan Card)

पैन कार्ड या पर्मानेंट अकाउंट नंबर (Pan or Permanent Account Number) एक ऐसा सरकारी दस्तावेज है, जिसे हर तरह के वित्तीय लेन-देन और टैक्स के लिए इस्तेमाल किया जाता है। आयकर अधिनियम 1961 के तहत जारी होने वाले पैन कार्ड में 10 डिजिट का अल्फानुमेरिक कोड होता है, जो कंप्यूटर द्वारा बनाया जाता है और प्रत्येक कार्डधारक का कोड अलग होता है। इतना ही नहीं इससे आपकी फाइनेंशियल हिस्ट्री का रिकॉर्ड भी रखा जाता है।

पैन कार्ड के फायदे (Benefits of Pan Card)

यदि आप सैलरी पर जॉब करते हैं और टैक्स देने लायक पैसा कमाते हैं, या फिर आप अपना बिजनेस करते हैं और सरकार की तरफ से जारी स्लैब के अनुरूप सालाना कमाई करते हैं, तो आपको हर साल अपनी कमाई का हिस्सा सरकार को टैक्स के रूप में देना होता है। आयकर रिटर्न भरने के लिए पैन कार्ड सबसे जरूरी दस्तावेज है। इसके अलावा आपको बैंक में नया खाता खुलवाना हो, लैंडलाइन टेलीफोन या मोबाइल कनेक्शन और 50,000 से अधिक की धनराशि बैंक में जमा करनी है तब भी पैन कार्ड जरूरी है। इसके अलावा पैन कार्ड का इस्तेमाल पहचान पत्र के रूप में भी किया जाता है।

कौन कर सकता है पैन कार्ड के लिए आवेदन? (Who Can Apply for Pan Card)

  • जो टैक्स स्लैब में आता हो (नौकरी/ बिज़नस)

  • जिसकी सालाना सेल या टर्नओवर 5 लाख से ज्यादा हो

इसके अलावा पैन कार्ड सिर्फ व्यक्तियों के लिए ही जारी होता, बल्कि कंपनियां और पार्टनरशिप फर्म भी पैन कार्ड का फायदा ले सकते हैं। इतना ही नहीं आयकर रिटर्न दाखिल करने वाली सभी संस्था या संगठनों के लिए भी पैन नंबर होना जरूरी हो जाता है। यहां तक कि व्यक्ति, नाबालिग, छात्र और विदेशी नागरिक के लिए भी पैन कार्ड बनवा सकते हैं।

कैसे करें पैन कार्ड के लिए आवेदन? (How to Apply for Pan Card)

नया पैन कार्ड बनवाने के लिए आवेदक ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीकों से आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए आपको फॉर्म 49ए और 49एए भरना होगा और साथ ही बिछे बताए गए दस्तावेज भी जमा करने होंगे।

पहचान पत्र (कोई भी एक)

  • मतदाता पहचान पत्र

  • राशन कार्ड (आवेदक की फोटो के साथ)

  • पासपोर्ट

  • ड्राइविंग लाइसेंस

  • आधार कार्ड

  • पेंशनर्स कार्ड

एड्रैस प्रूफ (कोई भी एक)

  • बिजली बिल (3 महीने से अधिक पुराना नहीं)

  • लैंडलाइन टेलीफोन या ब्रॉडबैंड कनेक्शन बिल (3 महीने से अधिक पुराना नहीं)

  • पानी का बिल (3 महीने से अधिक पुराना नहीं)

  • एलपीजी बिल (3 महीने से अधिक पुराना नहीं)

  • बैंक खाता विवरण

  • डाकघर की पासबुक (यदि उसमें पते का उल्लेख हो)

  • पासपोर्ट

  • मतदाता पहचान पत्र

  • ड्राइविंग लाइसेंस

  • मूल-निवास प्रमाणपत्र

  • आधार कार्ड

जन्म तिथि का प्रमाण (कोई एक)

  • जन्म प्रमाण पत्र

  • पेंशन पेमेंट ऑर्डर

  • शादी का प्रमाणपत्र

  • पासपोर्ट

  • ड्राइविंग लाइसेंस

  • मूल-निवास प्रमाणपत्र

ऑनलाइन कर सकते हैं आवेदन (Apply Online for Pan Card)

यदि आप ऑफलाइन प्रक्रिया की भागदौड़ से बचना चाहते हैं तो आप पैन कार्ड के लिए ऑनलाइन भी अप्लाई कर सकते हैं। आधार कार्ड के साथ ऑथेंटिकेशन के बाद आयकर विभाग ने हाल ही में इंस्टेंट पैन सेवा शुरू की है, जिसके जरिए सिर्फ 10 मिनटों में आपको पैन कार्ड जारी कर दिया जाएगा।

ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों तरीकों से पैन कार्ड बनवाने के लिए आपको निर्धारित फीस का भुगतान भी करना होगा। पैन कार्ड के लिए ऑनलाइन अप्लाई आप नीचे दिए लिंक के जरिए कर सकते हैं।

https://www.onlineservices.nsdl.com/paam/endUserRegisterContact.html

अन्य खबरें

No stories found.