सपा-बसपा-गठबंधन-से-भाजपा-को-मिलेगी-बेहद-कड़ी-चुनौती-मुस्लिम-वोट-बैंक-बिगाड़ेगा-गणित |Alliance Uttar Pradesh News Akhilesh Yadav Mayawati बसपा गठबंधन भाजपा कड़ी चुनौती मुस्लिम वोट बैंक गणित Hindi Latest News 


बड़ी खबरें

सपा-बसपा गठबंधन से भाजपा को मिलेगी बेहद कड़ी चुनौती, मुस्लिम वोट बैंक बिगाड़ेगा गणित

सपा-बसपा गठबंधन से भाजपा को मिलेगी बेहद कड़ी चुनौती, मुस्लिम वोट बैंक बिगाड़ेगा गणित

वैसे तो सपा और बसपा 25 साल बाद एक साथ आ रहे हैं। पर लोकसभा चुनाव में दोनों पहली बार गठबंधन करके भाजपा से लड़ेंगे। अयोध्या का विवादित ढांचा गिरने के बाद भाजपा की हवा रोकने के लिए सपा के तत्कालीन मुखिया मुलायम सिंह यादव और बसपा सुप्रीमो कांशीराम ने गठबंधन किया था। वैसे इस गठबंधन के पीछे 1991 में लोकसभा चुनाव के दौरान मुलायम और कांशीराम के बीच हुई दोस्ती की भी भूमिका थी। बहरहाल 1993 में बसपा का गठन हुए तब नौ वर्ष ही हुए थे। सपा तो नई-नई बनी थी। मुलायम सिंह यादव ने चंद्रशेखर से नाता तोड़कर समाजवादी पार्टी का गठन किया था। सपा ने 264 सीटों पर चुनाव लड़ा था और बसपा ने 164 सीटों पर। सपा को 109 सीटों
www.amarujala.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »

अन्य सम्बन्धित समाचार


www.amarujala.com से अधिक समाचार