100 से अधिक सेवानिवृत्त नौकरशाहों ने खुला पत्र लिखा कहा भारत को एनपीआर सीएए की जरूरत नहीं Hindi Latest News नयी दिल्ली। संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) की संवैधानिक वैधता पर गंभीर" /> नयी दिल्ली। संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) की संवैधानिक वैधता पर गंभीर"/> नयी दिल्ली। संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) की संवैधानिक वैधता पर गंभीर" /> 

बड़ी खबरें

100 से अधिक सेवानिवृत्त नौकरशाहों ने खुला पत्र लिखा, कहा भारत को एनपीआर, सीएए की जरूरत नहीं

100 से अधिक सेवानिवृत्त नौकरशाहों ने खुला पत्र लिखा, कहा भारत को एनपीआर, सीएए की जरूरत नहीं

नयी दिल्ली। संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) की संवैधानिक वैधता पर गंभीर आपत्तियों का उल्लेख करते हुए 100 से अधिक पूर्व नौकरशाहों ने बृहस्पतिवार को लोगों को एक खुला पत्र लिखकर कहा है कि एनपीआर और एनआरआईसी ‘‘अनावश्यक और व्यर्थ की कवायद’’ है जिससे बड़े पैमाने पर लोगों को दिक्कत ... क्लिक »

www.prabhasakshi.com