सृष्टि किसी की जागीर नहीं, सरकार को सौपेंगे : ननकीराम कंवर
सृष्टि किसी की जागीर नहीं, सरकार को सौपेंगे : ननकीराम कंवर
news

सृष्टि किसी की जागीर नहीं, सरकार को सौपेंगे : ननकीराम कंवर

news

कोरबा 17 सितम्बर (हि स) । पूर्व गृह मंत्री व रामपुर विधायक एवं सृष्टि अस्पताल के संरक्षक ननकीराम कंवर द्वारा सृष्टी संस्था को लेकर गुरुवार को बैठक आयोजित की गई, जिसमे कई अहम फैसले लिये गये। सृष्टि इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस एंड रिसर्च सेंटर के संचालन व व्यवस्था को लेकर सृष्टि के संरक्षक छत्तीसगढ़ शासन के पूर्व गृह मंत्री व रामपुर विधायक ननकीराम कंवर ने संस्था को राशी देने वाले लोगो की अहम बैठक बुलाया था जिसमे सैकड़ों लोग शामिल हुए। शिवचरण कश्यप ने कहा कि हमने ननकीराम कंवर के अच्छाई व ईमानदारी को देखते हुए संस्था को सहयोग राशि दिया था लेकिन समिति के पंजीयन के नियम अनुसार संस्था के अध्यक्ष ने हमें समिति का सदस्य नहीं बनाया लेकिन फिर भी हम लोग ननकीराम कंवर के व्यवहार को देखते हुए आज तक कुछ नहीं बोल सके। मुझको देवेंद्र पांडे ने भी उस समय कहा था कि सृष्टि अस्पताल का उद्देश्य गरीब तबके लोगों को मुफ्त में इलाज करने की जो सोच ननकीराम कंवर ने रखी है वह बहुत ही उच्च सोच का प्रतीक है। ननकीराम कंवर के इस अस्पताल में ननकी राम का स्टेच्यू भी बनाया जाना चाहिए ऐसा कहा था। गोपाल मोदी ने भी कहा कि इस अस्पताल का निर्माण जब किया जा रहा था तब देवेंद्र पांडे एक बार भी अस्पताल के भवन को देखने तक नहीं आए थे जब भवन बन गया तो उनका आना-जाना चालू हुआ था। पूर्व गृह मंत्री व सृष्टि के संरक्षक ननकीराम कंवर ने कहा कि समिति में जो भी व्यक्ति सहयोग राशि दिया उन्हें सदस्य नहीं बनाया गया बल्कि अपने परिवार के लोगों को बिना पैसे दिए उन्हें सदस्य बनाया गया जो समिति के नियम के विपरीत है। ननकीराम कंवर ने कहा कि कुछ दिन पूर्व देवेंद्र पांडे ने सृष्टि अस्पताल में प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाकर सार्वजनिक रूप से झूठ बोला कि कोई भी व्यक्ति 500 देकर समिति का सदस्य बन सकता है। मैं पूछना चाहता हूं देवेंद्र पांडे से कि अगर सृष्टि अस्पताल एवं कॉलेज की जो संस्था है उसमें ऐसा कहीं उल्लेख होगा तो जानकारी सार्वजनिक करें। सृष्टि अस्पताल एवं कालेज बनाने में जो खर्च आया है वह राशि किस -किस व्यक्ति से सहयोग लेकर बना है इनकी जानकारी सार्वजनिक करें और उनसे पूछें की सृष्टि संस्था में जितने लोग सहयोग किए हैं वह ननकीराम कंवर को देखकर किए हैं कि देवेंद्र पांडे को देखकर। यदि एक भी व्यक्ति देवेंद्र पांडे को देखकर सहयोग किए हैं बोल दे तो मैं मानूं देवेंद्र पांडे के कहने एक आम व्यक्ति भी पैसा नही देगा। हिन्दुस्थान समाचार / हरीश तिवारी-hindusthansamachar.in