सादगी पूर्ण ढंग से मनाई गई विश्वकर्मा जयंती, निर्माणी श्रमिकों ने की पूजा-अर्चना
सादगी पूर्ण ढंग से मनाई गई विश्वकर्मा जयंती, निर्माणी श्रमिकों ने की पूजा-अर्चना
news

सादगी पूर्ण ढंग से मनाई गई विश्वकर्मा जयंती, निर्माणी श्रमिकों ने की पूजा-अर्चना

news

धमतरी 17 सितंबर ( हि. स.)। निर्माणकर्ता, निर्माण श्रमिकों के आराध्य देव भगवान विश्वकर्मा की जयंती 17 सितंबर को अलग-अलग स्थानों पर उत्साह और सादगी से मनाई गई। भगवान विश्वकर्मा की मूर्ति स्थापित कर पूजा-अर्चना की गई। कोरोना वायरस के कारण सभी तीज त्यौहार शांतिपूर्वक ढंग से मनाए जा रहे हैं। इसी प्रकार से भगवान विश्वकर्मा जयंती भी मनाई गई। किसी भी स्थान में डीजे का शोर सुनाई नहीं दिया। बाम्बे गैरेज क्षेत्र के दुकानदारों के अलावा पेटी ठेकेदार संघ ने जयंती मनाई। निर्माणी श्रमिक संघ पेटी ठेकेदार संघ के अध्यक्ष तिलक देवांगन ने बताया कि इस बार कोरोना संक्रमण के कारण भगवान विश्वकर्मा की जयंती सादगी से मनाई गई। ओम् इंजीनिरिंग वर्क शाॅप देमार में विश्वकर्मा जयंती उत्साह के साथ मनाई गई। ग्राम पुरोहित आचार्य पं. खिलावन प्रसाद शर्मा आचार्य व पंं. मुरली कृष्ण शास्त्री की अगुवाई में पूजा-अर्चना की गई। संचालक संतोष सिन्हा, सूरज सिन्हा, महेश सिन्हा, ओम प्रकाश सिन्हा केशू यादव, मोहन विश्वकर्मा युवराज साहू, मोंटू यादव, किसुन सिन्हा, पवन साहू, रविंद्र कुमार, दुर्गेश्वर चौरे, उमेश्वर पटेल, पवन साहू, देवनाथ, शैलेंद्र, रामू टनर, कन्हैया, डोमन साहू, विक्रम साहू, किशन सिन्हा, लक्ष्मण सिन्हा सहित अन्य लोग उपस्थित थे। ओम इंजीनियरिंग वर्क्स के संचालक संतोष सिन्हा ने बताया कि निर्माण श्रमिकों के आराध्य देव शिल्पी भगवान विश्वकर्मा की जयंती देमार में सन 2003 से मनाई जा रही है। भगवान विश्वकर्मा हमेशा निर्माणी श्रमिकों का मार्ग प्रशस्त करते हैं। हिन्दुस्थान समाचार / रोशन-hindusthansamachar.in