सरकार सतर्क लेकिन स्थानीय प्रशासन सुस्त जनता परेशान Hindi Latest News 

बड़ी खबरें

सरकार सतर्क लेकिन स्थानीय प्रशासन सुस्त, जनता परेशान

सरकार सतर्क लेकिन स्थानीय प्रशासन सुस्त, जनता परेशान

सरकार सतर्क लेकिन स्थानीय प्रशासन सुस्त, जनता परेशान सूचना देने पर गांव में नहीं पहुंची पुलिस, दूसरी घटना में सात घंटे बाद पहुंची एंबुलेंस मुजफ्फरनगर, 23 मार्च (हि स)। कोरोना को लेकर शासन भले ही सतर्क हो लेकिन यहां जिला प्रशासन की सुस्ती के दो मामले सामने आये है। सोमवार को जब एक मामले में खांसी, जुकाम और संभावित संक्रमित

व्यक्त की सूचना देने के बावजूद भी जिला अस्पताल से कोई मदद नहीं पहुंची, जबकि दूसरे ऐसे ही मामले में एंबुलेंस तब पहुंची, जब मुख्यमंत्री तक शिकायत पहुंची। बताया गया कि शाहपुर थाना क्षेत्र के दुलहरा गांव में राहुल पुत्र वीरेंद्र, जो गत रात ही नोएडा से घर लौटा और उसे खांसी के साथ नजला जुखाम था। गांव वालों की सलाह पर उसके परिजनों ने राहुल को अलग कमरे बंद कर जिला अस्पताल को सूचना दी लेकिन अस्पताल से कोई सहायता नहीं पहुंची। वहीं भारतीय किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष धीरज लाटियान ने बताया कि तितावी थाना क्षेत्र के जसोई गांव में मोनू पुत्र जयवीर को नजला, जुकाम व बुखार होने पर सीएमओ को सूचना देने के बाद भी 7 घंटे तक कोई चिकित्सा सुविधा गांव नहीं पहुंची। सात घंटे तक इंतजार करने के बाद एंबुलेंस तब पहुंची जब मुख्यमंत्री पोर्टल पर शिकायत की गयी। उन्होंने कहा कि युवक की खराब हालत को देखते हुए परिजनों ने उसे अलग कमरे में बंद कर रखा है। परिजन तक उसके पास जाने से भी घबरा रहे थे। धीरज लाटियान ने प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि गांव के लोग तो बीमारी को लेकर जागरूक हैं लेकिन प्रशासन लापरवाह बना हुआ है। उन्होंने कहा कि प्रशासन की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। हिन्दुस्थान समाचार /भारत
... क्लिक »

hindusthansamachar.in

अन्य सम्बन्धित समाचार