श्रमिकों के मुद्दे पर इंटक ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा
श्रमिकों के मुद्दे पर इंटक ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा
news

श्रमिकों के मुद्दे पर इंटक ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा

news

रायगढ़ 15 सितंबर (हि.स.)। कोरोना संक्रमण में मजदूरों को होने वाली परेशानियों को देखते हुए इंटक जिलाध्यक्ष शाहनवाज खान ने कलेक्टर भीम सिंह को ज्ञापन सौंपते हुए श्रम विभाग एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा मजूदरों के लिए एक योजना बनाकर काम करने की मांग की है। इंटक जिलाध्यक्ष शाहनवाज खान का कहना है कि छत्तीसगढ़ का एक बड़ा औद्योगिक क्षेत्र है। यहां के उद्योगों में काम करने वाले संगठित और असंगठित मजदूरों की संख्या लाखों में है। इसके अलावा रायगढ़ से पलायन कर पूर्व में अन्य राज्यों में गए श्रमिकों की संख्या भी कई हजारों में है। कोविड़ 19 के कारण अन्य राज्यों में हुए स्थानीय श्रमिक अपने गृह जिले रायगढ़ वापस आ गए हैं। परंतु अब तक यहां के स्थानीय उद्योगों में कार्य कर रहे श्रमिकों एवं बाहर से वापस आए श्रमिकों के लिए कोई भी संयुक्त योजना श्रम विभाग एवं स्वास्थ्य विभाग के द्वारा बनाकर कार्य नही किया गया जिसका परिणाम यह हुआ है कि आज कोविड़ 19 के मरीजों की संख्या भी वहां बढ़ते जा रही है। जहां श्रमिकों की रहवासी क्षेत्र है। साथ ही साथ उन्हें जीवन यापन की आर्थिक समस्याओं से जूझना पड़ रहा है। रायगढ़ शहर में भी कई ऐसे मोहल्ले हैं जहां दैनिक श्रमिक कार्य कर अपना जीवन यापन करने वाले बहुतयात में निवासरत है। इनमें से कई मोहल्ले में कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति भी पाए गए हैं अब वहां अचानक से कोविड़ 19 पॉजिटिव के लोग मिल रहे हैं। कलेक्टर से निवेदन किया है कि श्रम विभाग एवं स्वास्थ्य विभाग के साथ त्रिपक्षीय वार्ता करके तत्काल प्रभाव से पायलेट प्लान तैयार किया जाए। जिससे ऐसे सभी चिन्हांकित इलाको में कोविड़ 19 के मरीजों को चिन्हांकित करके उनका इलाज तत्काल हो और बाकी श्रमिकों को इससे हो रही परेशानी व खतरे से बचाया जा सके। इंटक जिलाध्यक्ष शाहनवाज खान ने कलेक्टर को जानकारी दी कि कई रेल कर्मचारी भी कोरोना की चपेट में आकर आए दिन पॉजिटिव निकल रहे हैं। मगर नगर निगम व पीडब्ल्यूडी विभाग के द्वारा रेल कर्मियों के साथ सौतेला व्यवहार करते हुए न तो उनके मकानों को सेनेटाईज किया जा रहा है और न ही पीडब्ल्यूडी के द्वारा उनके घरों के बाहर बेरिकेट लगाया जा रहा है। हिन्दुस्थान समाचार /रघुवीर प्रधान-hindusthansamachar.in