शराब की ऑनलाइन बुकिंग का हाल, कोचिए हो रहे मालामाल
शराब की ऑनलाइन बुकिंग का हाल, कोचिए हो रहे मालामाल
news

शराब की ऑनलाइन बुकिंग का हाल, कोचिए हो रहे मालामाल

news

रायगढ़, 24 जुलाई (हि.स.)। कोरोना संक्रमण के चलते शराब की ऑनलाइन डिलीवरी प्रांरभ की गई है। अब शराब कोचियों को भी घर बैठे विभाग के अंर्तगत कार्य कर रहे प्लेसमेंट एजेंसी के कर्मचारी द्वारा शराब पहुंचाई जाएगी। चूंकि ऑनलाइन डिलीवरी के लिए नए कर्मचारी को नहीं रखा गया है और इसकी निगरानी व शराब की अवैध बिक्री को रोकने के लिए कोई योजना विभाग के द्वारा नहीं बनाई गई है। ऐसे में रायगढ़ जिला में अब शराब की अवैध बिक्री पहले से अधिक हो रही है। घर पर बैठे ही ऑनलाइन बुकिंग कर दी जाती है और 15 किमी की दूरी पर जो भी शराब दुकान होगी वहां से कुछ ही घंटों में शराब की बोतल पहुंच जाती है। जानकारों ने बताया कि सीएसएमसीएल नामक एप को डाउनलोड करने के बाद इसके माध्यम से शराब की बुकिंग कर दी जाती है। इसमें नाम, आधारकार्ड नंबर, मोबाइल नंबर, स्थायी पता, शहर व पिनकोड को डाला जाता है। इसके अलावा मामूली अन्य प्रक्रिया को पूरा करने के बाद शराब ऑनलाइन डिलीवरी कर मंगाया जा सकता है। ऐसे में विभागीय जानकारों का कहना है कि इसका पूरा फायदा शराब की अवैध बिक्री करने वाले उठा रहे हैं। ऑनलाइन डिलीवरी के माध्यम से एक व्यक्ति चार बोतल (सोलह क्वार्टर) की खरीदी कर सकता है। पहले इसकी मात्रा कम थी, पर अब बढ़ा कर चार बोतल कर दिया गया है। ऐसे में कोई भी कोचिया एक ही दिन में अपने व अपने परिचितों के माध्यम से कई बोतल शराब घर में बैठे बैठे ही मांगा सकता है। इसके लिए महज एक बोतल में पचास रुपये दो बोतल में सौ रुपये ही एक्स्ट्रा चार्ज लगते हैं। इस संबंध में सारंगढ़ आबकारी सर्किल प्रभारी अनिल बंजारे ने बताया कि इस योजना का मुख्य वजह यही है कि दुकान में भीड़भाड़ न हो। घरों से लोग शराब के लिए नहीं निकले। इस कारण इस योजना को चालू किया गया है। ऑनलाइन शराब बिक्री में कोचिए वाली समस्या थोड़ी जरूर है, पर मैं अपने स्तर पर इस पर निगरानी करने के लिए ऑनलाइन बिक्री के बाद शाम को इसका परमिट चेक करूंगा कि एक जगह में मंगाने के बाद उसी के आसपास कोई शराब मांगाया है कि नहीं। इसके अलावा नियमित रूप से कोचियों पर निगरानी रखते हुए कार्रवाई की जाएगी। इस संबंध में आशीष उप्पल, आबकारी प्रभारी, रायगढ़ सर्किल वृत्त शहर ने बताया कि ऑनलाइन बुकिंग के माध्यम से लोगों को इस कारण सुविधा दी गई है कि शराब दुकान में भीड़ न हो और शराब के लिए लोगों को घरों से न निकलने पड़े। प्रारंभ में आर्डर ज्यादा था, पर अब ऐसा नहीं है। बहुत ज्यादा मात्रा में आर्डर अभी नहीं आ रहा है। एक ही आदमी के द्वारा बार बार आर्डर की भी कोई बात सामने नहीं आयी है, पर इस पर निगरानी रखी जाएगी और ऐसा पाए जाने पर जांच के बाद कार्रवाई भी की जाएगी। हिन्दुस्थान समाचार /रघुवीर प्रधान-hindusthansamachar.in