राष्ट्रीय कृमि मुक्ति कार्यक्रम : 23 से 30 सितंबर तक घर-घर जाकर खिलाई जाएगी दवा
राष्ट्रीय कृमि मुक्ति कार्यक्रम : 23 से 30 सितंबर तक घर-घर जाकर खिलाई जाएगी दवा
news

राष्ट्रीय कृमि मुक्ति कार्यक्रम : 23 से 30 सितंबर तक घर-घर जाकर खिलाई जाएगी दवा

news

धमतरी 15 सितंबर ( हि. स.)। राष्ट्रीय कृमि मुक्ति कार्यक्रम का आयोजन 23 से 30 सितंबर तक किया जाएगा। इस दौरान जिले के एक से 19 साल तक के 3,01,832 बच्चों और किशोर-किशोरियों को एल्बेंडाजोल टेबलेट खिलाने का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए जिला स्तर पर डाॅ.फूलमाली को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। कलेक्टर जय प्रकाश मौर्य ने 15 सितंबर को कलेक्टोरेट सभाकक्ष में बैठक लेकर कोरोना से बचाव को ध्यान में रख कार्यक्रम के दौरान एहतियात बरतने और इसके लिए कार्ययोजना बनाने आवश्यक निर्देश अधिकारियों दिए हैं। इस कार्य में स्वास्थ्य विभाग के साथ-साथ महिला एवं बाल विकास, शिक्षा विभाग और नगरपालिक निगम और अन्य नगरीय निकायों का भी सहयोग किया जाएगा। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, एएनएम, मितानिन, शिक्षक और निगम टीम द्वारा घर-घर जाकर बच्चों को एल्बेंडाजोल टेबलेट खिलाई जाएगी। दवा खिलाने के बाद इस संबंध में प्रमाण पत्र दिया जाएगा। इसमें एक से पांच साल तक के बच्चों का प्रमाण पत्र एनएनएम, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका द्वारा संयुक्त रूप से दिया जाएगा। छः से 18 साल तक के प्राथमिक और माध्यमिक स्कूल के बच्चों का प्रमाण पत्र प्रधानपाठक और हाई एवं हायर सेकेण्डरी स्कूल के बच्चों का प्रमाण पत्र प्राचार्य द्वारा दिया जाएगा। इसी तरह ऐसे बच्चे जो स्कूल नहीं जाते उनका प्रमाण पत्र ग्राम पंचायत सचिव द्वारा दिया जाएगा। बच्चों के अभिभावक अथवा किशोर-किशोरियों से बुखार, सर्दी-खांसी, सांस लेने में कठिनाई अथवा कोरोना से संक्रमित व्यक्ति से संपर्क के बारे में जानकारी ली जाएगी। गौरतलब है कि एक से दो साल तक के बच्चों को आधी गोली, दो से तीन साल तक के बच्चों को एक-एक गोली पानी में घोलकर अथवा पावडर कर खिलाई जाएगी तथा तीन से 19 साल तक के बच्चों और किशोर-किशोरियों को एक-एक गोली दी जाएगी। बीमार बच्चे और किसी अन्य दवाई का सेवन करने वाले बच्चों को यह दवाई नहीं दी जाएगी। हिन्दुस्थान समाचार / रोशन-hindusthansamachar.in