भूपेश ने प्रदेश की हालात बद से बदतर बना दिया :डॉ.रमन सिंह
भूपेश ने प्रदेश की हालात बद से बदतर बना दिया :डॉ.रमन सिंह
news

भूपेश ने प्रदेश की हालात बद से बदतर बना दिया :डॉ.रमन सिंह

news

मरवाही उप चुनाव में भाजपा उम्मीदवार की जीत होगी-डॉ.रमन सिंह रायपुर ,15 अक्टूबर (हि.स.)। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह कुछ देर के लिए गुरुवार को बिलासपुर अल्पप्रवास पर पहुंचे। मरवाही रवाना होने से पहले पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि प्रदेश का विकास 20 महीने में पूरी तरह से रूक गया है। हर तरफ आतंक का बोलबाला है। महिलाएं सुरक्षित नहीं है। कांग्रेस में मरवाही चुनाव को लेकर भारी दहशत है। यही कारण है कि बूथ स्तर पर विधायकों को तैनात किया गया है। डॉ.रमन सिंह ने कहा कि मरवाही उप चुनाव में भाजपा उम्मीदवार की जीत होगी। सवाल जवाब के दौरान पूर्व सीएम ने कहा कि कांग्रेस ने किसानों को न्याय दिलाने, बेरोजगारों को रोजगार देने, पूर्ण शराबन्दी के वादों के साथ सरकार में आयी। लेकिन पिछले 20-22 महीनों में वादों के खिलाफ ही काम कर रही है। डॉ.रमन सिंह ने बताया कि 20 महीनों में भूपेश बघेल ने प्रदेश के हालात को भयावह बना दिया है, सारी विकास योजनाएं ठप हैं। सड़क पुल निर्माण का काम पूरी तहर बन्द हो चुका है। सारी योजनाएं दम तोड़ दी हैं। पिछले 20 महीनों में प्रदेश में लूट के सिवाय कुछ नहीं हुआ है। कोल माफिया, रेत माफिया और शराब माफियों का बोलबाला है। प्रदेश में लूट के सिवाय कुछ काम नहीं हो रहा है। राज्य ही नहीं केन्द्र की भी योजनाएं पूरी तरह से बन्द हैं। ऐसे हालात पहले कभी नहीं थे। जनता में डर का वातावरण है। डॉ. रमन सिंह ने बताया कि यह चुनाव बीस महीने के कांग्रेस कार्यकाल के भय और आंतक के खिलाफ होगा। बस्तर से लेकर सरगुजा तक आतंक का बोलबाला है। नक्सली गतिविधियां बढ़ गयी हैं। लगातार शर्मसार करने वाली बलात्कार की खबरे आ रही हैं.। प्रशासन और सरकार सभी मोर्चो पर असफल हो चुकी है। पत्रकार भी सुरक्षित नहीं हैं। भूपेश ने प्रदेश के हालात को बद ले बदतर बना दिया है। इन्ही मुद्दों को लेकर हम जनता के बीच जा रहे हैं। चुनाव नजदीक आते ही जोगी की जाति मामला सामने आ गया है। लेकिन इस बार लगता है कि सरकार नहीं चाहती कि जोगी नामांकन दाखिल कर सके। जबकि मुद्दा उठाने वाले जोगी सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं। मामले को किस रूप में देखते हैं। सवाल के जवाब में रमन सिंह ने कहा कि जाति मामला न्यायलयीन प्रक्रिया में है। कोर्ट का फैसला ही अंतिम होगा। छानबीन समिति और अनुशंसा के आधार पर ही निर्णय ऐगा। जो भी फैसला होगा सबके सामने आ जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार / केशव-hindusthansamachar.in