बिजनेस स्टैंडर्ड किस्तों में लें दावे की रकम तो दुरुपयोग का डर होगा कम Hindi Latest News 

बड़ी खबरें

बिजनेस स्टैंडर्ड - किस्तों में लें दावे की रकम तो दुरुपयोग का डर होगा कम

बिजनेस स्टैंडर्ड - किस्तों में लें दावे की रकम तो दुरुपयोग का डर होगा कम

किस्तों में भुगतान का विकल्प चुनकर लाभार्थी या उसका नॉमिनी ब्याज दर के जोखिम से बच जाता है। यदि बड़ी मात्रा में एकमुश्त रकम दी जाती है तो परिवार के ऊपर जिम्मेदारी रहती है कि वह उस रकम को ऐसे संभाले कि कम से कम अगले तीन से पांच साल तक वह रकम उसके काम आती रहे। सेबी में पंजीकृत निवेश सलाहकार तथा ... क्लिक »

hindi.business-standard.com