फूलोदेवी ने इस्पात मंत्री को पत्र लिख कहा, स्टील प्लांट निजीकरण का निर्णय दुर्भाग्यपूर्ण
फूलोदेवी ने इस्पात मंत्री को पत्र लिख कहा, स्टील प्लांट निजीकरण का निर्णय दुर्भाग्यपूर्ण
news

फूलोदेवी ने इस्पात मंत्री को पत्र लिख कहा, स्टील प्लांट निजीकरण का निर्णय दुर्भाग्यपूर्ण

news

कोंडागांव 16 सितम्बर (हि.स.)। राज्यसभा सांसद श्रीमती फूलोदेवी नेताम ने बुधवार को नगरनार इस्पात संयंत्र के संबंध में इस्पात मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान को पत्र लिखा है। सांसद ने लिखा है कि भारत सरकार इस्पात मंत्रालय के अधीन नवरत्न सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यम एनएमडीसी लिमिटेड द्वारा लगभग 20 हजार करोड रूपए से अधिक की लागत पर बस्तर में नगरनार स्टील प्लांट लगाया जा रहा है। अभी यह प्रोजेक्ट पूरा भी नहीं हुआ है लेकिन केन्द्र सरकार ने बस्तर के इस स्टील प्लांट का निजीकरण करने का निर्णय कर लिया है। यह अत्यन्त दुर्भाग्यपूर्ण है कि छत्तीसगढ के आदिवासी अंचल में सार्वजनिक क्षेत्र के प्रस्तावित स्टील प्लांट का निजीकरण किया जा रहा है। इससे लाखों आदिवासियों की उम्मीदों और आकांक्षाओं को गहरा आघात पहुंचा है। आदिवासी समुदाय आंदोलित हो रहे हैं। सांसद ने सरकार से आग्रह किया है कि केन्द्र सरकार नगरनार स्टील प्लांट के निजीकरण के निर्णय पर पुनः विचार करे और इसे सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यम के रूप में ही बनाए रखा जाए। हिन्दुस्थान समाचार/ राजीव गुप्ता-hindusthansamachar.in