पुलिस का मानवीय दृष्टिकोणप्रदेश भर में लाॅकडाउन के दौरान भोजन सामग्री वितरण Hindi Latest News 

बड़ी खबरें

पुलिस का मानवीय दृष्टिकोण:प्रदेश भर में लाॅकडाउन के दौरान भोजन सामग्री का वितरण

पुलिस का मानवीय दृष्टिकोण:प्रदेश भर में लाॅकडाउन के दौरान भोजन सामग्री का वितरण

पुलिस का मानवीय दृष्टिकोण:प्रदेश भर में लाॅकडाउन के दौरान भोजन सामग्री का वितरण जयपुर, 29 मार्च (हि.स.)। कोरोना सक्रमण की वैश्विक आपदा के दौरान राजस्थान पुलिस ने मानवीय दृष्टिकोण के साथ सराहनीय पहल करते हुए जरूरतमंदों की मदद के लिए तत्परता से कार्रवाई की है। लाॅकडाउन के दौरान प्रदेश भर में पुलिस कर्मी भोजन के अभाव से जूझ रहे व्यक्तियों

की मदद के लिए आगे आए हैं। अनेक थानों में भोजन सामग्री एकत्रित कर अभावग्रस्त लोगों को वितरित की जा रही है। साथ ही भोजन बनवाकर भी वितरित किया जा रहा है। पुलिस महानिदेशक भूपेन्द्र सिंह ने पुलिस कर्मियों से कोरोना को देखते हुए राजकीय दायित्वों के निर्वहन के साथ ही मानवीय दृष्टिकोण को ध्यान में रखकर जरूरतमंदो की मदद करने एवं यह निश्चय करने का आहवान किया कि हम हमारी जानकारी में किसी भी जरूरतमंद को भूखा नहीं रहने देंगे। सम्पूर्ण प्रदेश के पुलिसकर्मियों द्वारा राजकीय दायित्वों के निर्वहन के साथ ही बेघर, कमजोर, बीमार तथा वृद्धजनों को तत्परता के साथ मदद करने के साथ ही वंचित वर्ग के नागरिकों के प्रति सराहनीय संवेदनशीलता का परिचय दिया जा रहा है। पुलिस ने सवाई माधोपुर में बेसहारा, गरीब और राहगीरों के लिए जनता की रसाई खोली है। सभी थाना अधिकारीगणो अपने- अपने थाना क्षैत्र में जनता रसोई से भोजन बनाकर वितरित करवा रहे हैं। झालावाड जिले में गरीबों व दिहाडी मजदूरों सहित जरूरतमंदों की सहायता के लिए पुलिसकर्मी दिन रात जुटे हुए है। जैसलमेर शहर भ्रमणार्थ के लिए आये विदेशी शैलानियों को शहर कोतवाल द्वारा खाना वितरित किया गया। विदेशी शैलानियों ने जिला पुलिस के सराहनीय कार्य के लिए आभार व्यक्त किया गया। जयपुर में पुलिस द्वारा लोकडाउन का उल्लंघन करवाने वालों के खिलाफ कार्यवाही के साथ ही अभावग्रस्त परिवारों को राशन सामग्री वितरण तथा सेनेटाईजर, मास्क इत्यादि का वितरण किया जा रहा है। जयपुर रेंज के अलवर, भिवाड़ी, दौसा, जयपुर ग्रामीण, झुंझुनू तथा सीकर जिलों के 80 थाना क्षेत्रों में पुलिस द्वारा विभिन्न समाज सेवकों के सहयोग से दिहाड़ी मजदूरों उनके बच्चों, झुग्गी झापेड़ी में रहने वालों तथा अभावग्रस्त लोगों को लगभग 5 हजार राशन किट वितरित किये गये। गंगानगर जिले में जरूरतमंद व असहाय तथा झुग्गी झोपड़ियों में रहने वाले लगभग 200 परिवारों को राशन का सामान आटा, दाल, खाद्य तेल आदि का वितरण किया गया उदयपुर पुलिस द्वारा लगभग 7460 जरूरतमंद लोगों तक भोजन पहुंचाया जा चुका है। चित्तौड़गढ़ पुलिस ने दो हजार से अधिक जरूरतमंद नागरिकों को भोजन के पैकेट बांटकर मानव धर्म निभाया है। प्रतापगढ पुलिस द्वारा 3524 भोजन पैकेट के साथ इंसानियत की सेवा की है। डूंगरपुर पुलिस द्वारा अब तक 2795 लोगों तक पंहुचाया जा चुका है। बांसवाडा पुलिस द्वारा गुजरात सीमा पर अनवरत 800 लोगों के लिए लंगर संचालित कर सराहनीय सेवाएं दी जा रही है। हिन्दुस्थान समाचार/दिनेश/ ईश्वर
... क्लिक »

hindusthansamachar.in

अन्य सम्बन्धित समाचार