लॉक डाउन का छठा दिन घर जाने को निकले प्रवासी लौटाने से खिन्न Hindi Latest News 

बड़ी खबरें

लॉक डाउन का छठा दिन, घर जाने को निकले प्रवासी लौटाने से खिन्न

लॉक डाउन का छठा दिन, घर जाने को निकले प्रवासी लौटाने से खिन्न

लॉक डाउन का छठा दिन, घर जाने को निकले प्रवासी लौटाने से खिन्न देहरादून, 30 मार्च (हि. स.)। कोरोना वायरस के मद्देनजर देशव्यापी लॉक डाउन के छठे दिन सोमवार को पुलिस ने अपने गांव-घर जाने के लिए निकले प्रवासियों को वापस लौटा दिया। इससे यह लोग खिन्न हो गए। दो दिन के अवकाश के बाद बैंकों के खुलने से इक्का-दुक्का

वाहन सड़क पर नजर आए। खरीदारी की छूट खत्म होते ही दोपहर एक बजे के बाद सड़कें वीरान हो गईं। पुलिस प्रशासन गृह मंत्रालय की एडवाइजरी के बाद सख्त दिखा। लोग घरों में कैद रहे। दिहाड़ी मजदूर और प्रवासी कामगार जरूर इधर-उधर घूमते रहे। प्रशासन ने ऐसे लोगों को लौटा दिया। इस दौरान उन्हें खाना और राशन पुलिस ने मुहैया कराया। यह लोग मुरादाबाद, बिजनौर, शामली, बरेली जाना चाहते थे। उन्हें सरकार के ताजा आदेश की जानकारी नहीं थी। यह लोग गोविंदगढ़, बिंदाल, चोरखाला, विधानसभा, रिस्पना पुल, लालपुर, पटेल नगर, रायपुर जाखंड आदि क्षेत्रों से आए थे। पुलिस प्रमुख चौराहों के साथ शहर में हर स्थान पर लॉक डाउन के आदेशों का पालन कराने के लिए मुस्तैद दिखी। टू व्हीलर पर डबल यात्रा करने वालों का चालान किया गया। भविष्य में ऐसा न करने की चेतावनी दी गई। घरों से चौपहिया से बाजार के लिए निकले लोगों से पूछताछ की गई। एक युवक को बाइक पर डबल राइडिंग करने पर घंटा घर पर रोका गया। इससे वह तमतमा गया। आखिर में पुलिस ने चालान काटकर वापस भेज दिया। निरंजनपुर सब्जी मंडी और आढ़त बाजार आज भी रिटेलर व्यापारियों के लिए निर्धारित अवधि तक खुले। सुबह 7 बजे से दोपहर एक बजे तक राशन सहित अन्य आवश्यक दुकानें और बैंक खुले रहे। पुलिस के जवान कालाबाजारी, जमाखोरी और मुनाफाखोरी न करने की चेतावनी दुकानदारों को देते रहे। सामाजिक संस्थाओं ने असहायों को भोजन के पैकेट और राशन सामग्री मुहैया कराई। एसपी (सिटी) श्वेता चौबे ने पत्रकारों से कहा कि लॉक डाउन के दिशा-निर्देशों का किसी को भी उल्लंघन नहीं करने दिया जाएगा। गृह मंत्रालय की एडवाइजरी का पुरा पालन किया जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार/राजेश/मुकुंद
... क्लिक »

hindusthansamachar.in

अन्य सम्बन्धित समाचार