कोरोना प्रकोप यूपी बोर्ड की उत्तरपुस्तिकाओं का मूल्यांकन रुका नये सत्र में देरी संभव Hindi Latest News 

बड़ी खबरें

कोरोना प्रकोप : यूपी बोर्ड की उत्तरपुस्तिकाओं का मूल्यांकन रुका, नये सत्र में देरी संभव

कोरोना प्रकोप : यूपी बोर्ड की उत्तरपुस्तिकाओं का मूल्यांकन रुका, नये सत्र में देरी संभव

कोरोना प्रकोप : यूपी बोर्ड की उत्तरपुस्तिकाओं का मूल्यांकन रुका, नये सत्र में देरी संभव प्रयागराज, 28 मार्च (हि.स)। कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते 16 मार्च से शुरू हुआ यूपी बोर्ड की उत्तरपुस्तिकाओं का मूल्यांकन का काम रुक गया हैं। शैक्षिक सत्र पिछड़ने की आशंका देखते हुये इलाहाबाद बोर्ड का नया शैक्षिक सत्र इस बार जून से शुरू कराने

पर विचार कर रहा है। माना जा रहा है कि इस साल नया शैक्षिक सत्र होने में विलंब होगा। देशभर में लोकडाउन के चलते अब अप्रैल के अंतिम माह से मूल्यांकन शुरू होने और मई माह के अंत तक यूपी बोर्ड की परीक्षाओं का परिणाम आने की संभावना है। ऐसे में यूपी बोर्ड का नया सत्र जून के अंतिम सप्ताह से शुरू कर सकती है। माना जा रहा है कि इस पर यूपी बोर्ड अगले कुछ दिनों में निर्णय ले सकता है। कोरोना संक्रमण का प्रभाव समाप्त होने के बाद अगले 15 से 20 दिनों में हर हाल में मूल्यांकन का काम पूरा करके रिजल्ट तैयार करना होगा। ऐसे में पूरा अप्रैल व मई का आधा से ज्यादा समय बीत जाएगा, जिस कारण से यूपी बोर्ड का नया शैक्षिक सत्र शुरू होने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। यूपी बोर्ड के सत्र देर से शुरू होने से सबसे ज्यादा नुकसान 2021 में हाईस्कूल व इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा देने वाले छात्रों को होगा। जून में सत्र के शुरू होने के कारण शिक्षकों को कम से कम पांच महीनों में पूरा सिलेबस पूरा करना होगा। ताकि बोर्ड परीक्षा शुरू होने से पहले इन छात्रों को दिसंबर व जनवरी में दो प्री बोर्ड आयोजित हो सकें। इस बाबत माध्यमिक शिक्षा परिषद की सचिव नीना श्रीवास्तव ने बताया कि है कि अभी हमारी पहली प्राथमिकता मूल्यांकन कार्य पूरा करना है। जैसे ही कोरोना के संक्रमण का खतरा समाप्त होगा। हम इस पर विचार करेंगे। उन्होंने बताया कि इस साल शैक्षिक सत्र में थोड़ी देरी होना तय है। हिन्दुस्थान समाचार/विद्या कान्त
... क्लिक »

hindusthansamachar.in

अन्य सम्बन्धित समाचार