जिले में इलाज में लापरवाही के कारण कोरोना से मौतें हो रही है!
जिले में इलाज में लापरवाही के कारण कोरोना से मौतें हो रही है!
news

जिले में इलाज में लापरवाही के कारण कोरोना से मौतें हो रही है!

news

रायगढ़ ,16 अक्टूबर (हि.स.)। जिले में कोरोना से अब तक 110 मरीजों की मौत हो चुकी है। मौत का यह आंकड़ा प्रदेश में तीसरे नंबर पर है। ऐसे में जिला प्रशासन के साथ ही यहां के रहने वालों के भी माथे पर चिंता की लकीरें खींच गई है। गुरुवार को ही 250 नए मरीज सामने आये हैं और इसी दिन 05 मरीजों की मौत भी जिले में हुई है। शुरुआती दौर में भले ही रायगढ़ जिले में कोरोना का संक्रमण धीमा रहा हो लेकिन पिछले एक महीने में सामने आए आंकड़े डरावने हैं। जिले में अब तक 10435 मरीज पाजिटिव पाए जा चुके हैं, जबकि 110 लोगों की जान जा चुकी है। कोरोना के संक्रमण के मामले में जिले ने प्रदेश के 18 जिलों को जहां पीछे छोड़ दिया है, वहीं मौतों के मामले में प्रदेश के टॉप तीन जिलों में शुमार हो गया है। ज्यादा संक्रमण वाले अन्य जिलों की तुलना में जनसंख्या कम होने के बाद भी लगातार हो रही मौतें स्वास्थ्य विभाग के लिए चिंता का सबब बन गई है। स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि मरीजों के मौत के पीछे का कारण जिले में ज्यादातर मरीजों द्वारा लक्षण छिपाना या समय से इलाज शुरू न करवाना है। कई लोग तो टेस्ट से परहेज भी कर रहे हैं। क्रिटिकल कंडीशन होने पर ही हास्पिटल पहुंचते हैं। इतना ही नहीं परिवार के एक व्यक्ति के पाजिटिव आने के बाद बाकी के सदस्यों से कोरोना स्प्रेड हो रहा है। इस संबंध में मेडिकल प्रभारी डॉ वेद प्रकाश ने हिन्दुस्थान समाचार को कहा कि ऐसा नहीं है जिन डॉक्टर्स की ड्यूटी लगी है, वे भी राउंड लेते हैं। कई मरीज वेंटिलेटर से बाहर आकर स्वस्थ भी हुए हैं। इस जिले में मौत की दर 1 प्रतिशत से ज्यादा है। प्रतिदिन 200 से ज्यादा मरीज सामने आ रहे हैं। जनसंख्या के लिहाज से यह खतरनाक स्थिति है। हिन्दुस्थान समाचार /रघुवीर प्रधान-hindusthansamachar.in