जिला अस्पताल में नहीं दिया जा रहा सफाई पर ध्यान, मरीज हलाकान
जिला अस्पताल में नहीं दिया जा रहा सफाई पर ध्यान, मरीज हलाकान
news

जिला अस्पताल में नहीं दिया जा रहा सफाई पर ध्यान, मरीज हलाकान

news

कोरिया 24 जुलाई(हि.स.)। जिला अस्पताल में साफ-सफाई की तरफ गंभीरता से ध्यान नहीं दिया जा रहा है। एक तरफ तो देश में कोरोना जैसी महामारी फैली हुई है वहीं दूसरी तरफ जिला अस्पताल में सफाई व्यवस्था को गंभीरता से नहीं लिया जा रहा है। पिछले दिनों कलेक्टर ने जब अस्पताल का दौरा किया था तब भी यहां गंदगी देखने को मिली थी और उन्होंने सफाई की तरफ ध्यान देने के लिए कहा था। कलेक्टर ने कुछ महिनों पहले जिला चिकित्सालय का औचक निरीक्षण किया था। निरीक्षण के दौरान उन्होंने पाया था कि वार्डों में जमकर गंदगी थी। यह देखकर उन्होंने विभिन्न वार्डो में भ्रमण कर बेहतर साफ सफाई के निर्देश दिए थे। कलेक्टर ने जिला चिकित्सालय में टॉयलेट की साफ सफाई का निरीक्षण किया लेकिन वहां भी सफाई का अभाव पाया गया था। उन्होंने टॉयलेट की नियमित साफ सफाई सुनिश्चित करानें के निर्देश आरएमओ को दिए थे। है, कलेक्टर ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को भी निर्देशित किया था कि सफाई की तरफ गंभीरता से ध्यान दिया जाए। कलेक्टर ने जिला चिकित्सालय, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों एवं उप स्वास्थ्य केन्द्रों में साफ सफाई पर विशेष ध्यान देने के निर्देश संबंधित संस्था प्रभारियों को दिए हैं। उन्होंने कहा कि बरसात के दौरान लोगों के आने जाने से गंदगी फैलती है। इसलिए आवश्यक है कि जिला अस्पताल में दिन मे कई बार साफ सफाई की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। किंतु जिला चिकित्सालय में अब तक सफाई व्यवस्था भगवान भरोसे चल रही है। जिला चिकित्सालय के प्राइवेट वार्ड में ही सफाई व्यवस्था नहीं है मरीज गंदगीओं के बीच रह रहे हैं जबकि डॉक्टरों का कहना है कि मरीजों को साफसुथरी जगह में इलाज के दौरान रहना चाहिए। आप खुद अंदाजा लगा सकते हैं कि जब जिला चिकित्सालय के प्राइवेट वार्ड में गंदगी का आलम है तो जनरल वार्डों की क्या स्थिति होगी। हिन्दुस्थान समाचार/ महेन्द्र पाण्डेय-hindusthansamachar.in