छत्तीसगढ़ विधानसभा-मुझे ब्रांड अंबेसडर बनने की जरूरत नहीं है:मुख्यमंत्री भूपेश बघेल
छत्तीसगढ़ विधानसभा-मुझे ब्रांड अंबेसडर बनने की जरूरत नहीं है:मुख्यमंत्री भूपेश बघेल
news

छत्तीसगढ़ विधानसभा-मुझे ब्रांड अंबेसडर बनने की जरूरत नहीं है:मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

news

रायपुर ,21 दिसम्बर (हि.स.)।विधानसभा में शीतकालीन सत्र के पहले सदन में विपक्ष ने कुछ तीखे तीर भी छोड़े तो कुछ हल्की-फुल्की टिप्पणियों का दौर भी चला। सदन में पूर्व सदस्यों को श्रद्धांजलि देने के बाद प्रश्नकाल शुरू हुआ। इस दौरान पहला सवाल किसानों के विद्युत पंप कनेक्शन को लेकर सवाल छन्नू चंदू साहू ने पूछा। मुख्यमंत्री ने उसका जवाब दिया।किसानों की आत्महत्या पर विपक्ष के तीखे तेवर के बाद विधानसभा उपाध्यक्ष ने पहले तो विपक्ष के विधायकों का निलंबन किया।इस दौरान पहला सवाल किसानों के विद्युत पंप कनेक्शन को लेकर सवाल छन्नू चंदू साहू ने पूछा। मुख्यमंत्री ने उसका जवाब दिया। कुरुद से बीजेपी विधायक अजय चंद्राकर ने कहा कि मुख्यमंत्री जी सौभाग्य से सदन में मौजूद हैं। स्थायी विद्युत पंप कनेक्शन देने और अस्थायी विद्युत पंप कनेक्शन देने के लिए मुख्यमंत्री जी को सदन में ही घोषणा कर देनी चाहिये। ऐसे भी मुख्यमंत्री जी खुद को किसानों का ब्रांड अंबेसडर घोषित कर चुके हैं।अजय चंद्राकर के सवाल का जवाब देने उठे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि आपको तो हमारे होने में ही तकलीफ हैऔर देसी घी को प्रचार की जरूरत नहीं पड़ती।मैं किसान के घर पैदा हुआ, किसान हूं और किसान ही रहूंगा। मुझे ब्रांड अंबेसडर बनने की जरूरत नहीं है। जहां तक आपके अस्थायी पंप कनेक्शन के स्थायी पंप कनेक्शन में स्वीकृति की बात है तो ऐसा ना पहले कभी हुआ है और ना कभी होगा। स्थायी पंप के लिए अलग आवेदन होता है और अस्थायी के लिए अलग आवेदन होता है। आपके शासनकाल में तो लक्ष्य भी नहीं तय होता था। हमलोग कम के कम पंप कनेक्शन के लिए लक्ष्य तय कर रहे हैं और उसके अनुरूप काम कर रहे हैं।इसके बाद स्थगन प्रस्ताव में बहस के बाद सदन को आगामी कार्य दिवस तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। हिन्दुस्थान समाचार /केशव-hindusthansamachar.in