खदान में भू-स्खलन से ठेका कामगार की मौत, अन्य पांच लोग बाल-बाल बचे
खदान में भू-स्खलन से ठेका कामगार की मौत, अन्य पांच लोग बाल-बाल बचे
news

खदान में भू-स्खलन से ठेका कामगार की मौत, अन्य पांच लोग बाल-बाल बचे

news

कोरबा 23 जुलाई (हि.स.)। कोरबा जिले के एसईसीएल के कुसमुंडा खदान में गुरुवार सुबह भारी बारिश के कारण भू-स्खलन से एक ठेका कामगार की मलबे में दब कर मौत हो गई। जबकि पांच अन्य लोग बाल-बाल बच गये। घटना की सूचना पुलिस व प्रबंधन को दिए जाने पर उसके अधिकारी मौके पर पहुंच मलबे में दबे मजदूर को बाहर निकालने प्रयास में जुट गए है। लेकिन अब तक उसे बाहर नहीं निकाला जा सका है। मिली जानकारी के मुताबिक यह घटना कुसमुंडा खदान के क्वारी नंबर एक के पास की है जहां गुरुवार सुबह करीब 6 बजे घटना घटित हुई जिसमें बरमपुर निवासी सुरेश महंत (25) की मौत हो गई। बताया गया कि सुरेश महंत, केदार सिंह नामक एक ठेकेदार के अधीन में काम करता है। ठेकेदार ने उसकी व पांच अन्य की ड्यूटी पानी निकासी के लिए लगे यहां एक मोटर पंप की देख रेख के लिए लगाई गई थी। सुरेश महंत व उसका साथी किसी अनहोनी से अनजान अपने कामों में लगा हुआ था। इसी बीच यहां जमकर मुसलाधार बारिश होनी शुरू हो गई। बारिश के पानी का दबाव बढ़ने से मोटर पंप का पाईप फट गया तथा बड़ी मात्रा में पंप व बारिश का पानी भर गया। पानी भरने से खदान के एक हिस्से का मिट्टी एकाएक धंस गया, जिससे सुरेश महंत इसकी चपेट में आ गया। जबकि उसका पांच साथी किसी तरह भागकर अपनी जान बचाने में सफल रहे। मलबे के नीचे दबने से सुरेश की मौके पर मौत हो गई। इस घटना की सूचना तत्काल प्रबंधन को दी गई। जिस पर उसके अधिकारी मौके पर पहुंचे और मिट्टी में दबे कामगार के परिजनों तथा पुलिस को घटना की जानकारी देने के साथ ही मौके पर बचाव एवं राहत कार्य शुरू कराया। जानकारी होने पर दर्री सीएसपी खोमनलाल सिन्हा भी मौके पर पहुंचे। दमकल विभाग द्वारा मिट्टी को हटाने का काम शुरू कर दिया गया है। हिन्दुस्थान समाचार / हरीश तिवारी-hindusthansamachar.in