कोरोना संक्रमित शव के अंतिम संस्कार के लिए भूमि की मांग
कोरोना संक्रमित शव के अंतिम संस्कार के लिए भूमि की मांग
news

कोरोना संक्रमित शव के अंतिम संस्कार के लिए भूमि की मांग

news

एयरपोर्ट के पीछे गोकुल नगर के नजदीक सुरक्षित किया गया जगह जगदलपुर, 07 सितंबर (हि.स.)। बस्तर में कोरोना संक्रमितों के साथ मौत के आंकड़ा बढऩे के साथ ही जिला प्रशासन को इनके अंतिम संस्कार के लिए काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। शहर के मुक्तिधाम में कोरोना संक्रमित मरीजों का अंतिम संस्कार करवाया जा रहा है। मुक्तिधाम के आलावा अन्य जगहों पर प्रशासन ने अंतिम संस्कार करने की कोशिश की, लेकिन विरोध के कारण निगम प्रशासन को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। कोरोना संक्रमितों के अंतिम संस्कार में आ रही दिक्कत के मद्देनजर निगम प्रशासन ने कोरोना संक्रमित शव के अंतिम संस्कार के लिए 01 एकड़ की भूमि तलाश करने के साथ ही जिला प्रशासन से देने की मांग की है। निगम आयुक्त ने बताया कि कोविड मरीजों के शवों के अंतिम संस्कार के लिए एयरपोर्ट के पीछे गोकुल नगर के नजदीक जगह तलाश की गई है। इस जगह में बाउंड्री वॉल से लेकर सड़क का निर्माण भी किया गया है, जहां एक साथ दो लोगों का अंतिम संस्कार किया जा सकेगा। नगर निगम आयुक्त ने बताया कि यह इलाका शहर की आबादी से कुछ दूर पर है, इस कारण लोगों को नाराजगी भी नहीं होगी। निगम की ओर से इस जगह में अंतिम संस्कार करने के लिए घेरा बनाया जा रहा है, जल्द ही इसे तैयार कर लिया जाएगा। निगमायुक्त ने बताया कि बस्तर कलेक्टर के निर्देशानुसार कोविड पेशेंट के शवों को जलाने के लिए लकड़ी बहुत ज्यादा खर्च होती है, इस वजह से इस काम के लिए गैस या बिजली से चलने वाली मशीन की मांग की गई है, ताकि इसकी मदद से कोरोना संक्रमित का अंतिम संस्कार किया जा सके और आधे घंटे के भीतर शव पूरी तरह से जल जाए। बस्तर कलेक्टर को इसके लिए इस्टीमेट भेज दिया है। हिन्दुस्थान समाचार/राकेशपांडे-hindusthansamachar.in