कोरोना संक्रमण -लिपिक संघ ने की अतिरिक्त बजट की मांग
कोरोना संक्रमण -लिपिक संघ ने की अतिरिक्त बजट की मांग
news

कोरोना संक्रमण -लिपिक संघ ने की अतिरिक्त बजट की मांग

news

रायपुर, 22 सितम्बर (हि.स.)। छत्तीसगढ़ प्रदेश लिपिक वर्गीय शासकीय कर्म संघ ने प्रदेश के शासकीय कर्मचारी जो कोरोना वायरस से संक्रमित है और शासन द्वारा अधिकृत प्राईवेट चिकित्सा संस्थानों में ईलाज करवा रहे है, उनके चिकित्सा प्रतिपूर्ति देयकों के शीघ्र भुगतान के लिए अतिरिक्त बजट सभी विभागों को दिये जाने की मांग की है। संघ के प्रदेश अध्यक्ष रोहित तिवारी ने मंगलवार को जारी अपने बयान में बताया कि प्रदेश के हजारों शासकीय कर्मचारी अपने शासकीय दायित्वों का पालन करते हुए कोविड -19 कोरोना वाइरस से संक्रमित हो गए है। शासकीय अस्पतालों में बेड की कमी तथा गंभीर स्थिति होने पर उन्हें निजी अस्पतालों में में भर्ती होना पड़ रहा है। निजी अस्पतालों में लाखों के बिल भुगतान का बोझ शासकीय कर्मचारियों को झेलना पड़ रहा है। जो कर्मचारी हास्पिटल सें स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हों गऐ है, उनके चिकित्सा प्रतिपूर्ति के लिए विभाग में बजट की कमी बतायी जा रही है। जिससे कर्मचारियों को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है।शासकीय कर्मचारियों के संक्रमित होने का आंकड़ा प्रतिदिन शासन के पास पहुँच रहा है।निजी हास्पिटल में भर्ती शासकीय कर्मचारियों की जानकारी भी शासन को मिल रही है ।संघ की मांग है कि सरकार इन उपलब्ध आंकड़ों के अनुपात में कोविड- 19 से संक्रमित शासकीय कर्मचारियों के चिकित्सा प्रतिपूर्ति देयकों के भुगतान के लिए सभी विभागों को अतिरिक्त बजट का प्रावधान करें, ताकि शासकीय कर्मचारियो कों आर्थिक बोझ से राहत मिल सके। हिन्दुस्थान समाचार/ केशव-hindusthansamachar.in