राशन के बढ़ा दिए दाम कालाबाजारी खिलाफ नहीं हो रही कार्रवाई Hindi Latest News 

बड़ी खबरें

राशन के बढ़ा दिए दाम, कालाबाजारी के खिलाफ नहीं हो रही कार्रवाई

राशन के बढ़ा दिए दाम, कालाबाजारी के खिलाफ नहीं हो रही कार्रवाई

राशन के बढ़ा दिए दाम, कालाबाजारी के खिलाफ नहीं हो रही कार्रवाई औरैया, 29 मार्च (हि.स.)। नोवल कोरोना की रोकथाम के लिए सरकार ने लॉक डाउन किया है तो दूसरी ओर व्यापारियों ने इसका भी फायदा उठाना शुरू कर दिया है। अभी लॉक डाउन को पांच दिन ही हुए कि किराना बाजार में कड़वा तेल के दाम में 30 से

40 रुपये प्रति किलो की बढ़ोत्तरी हो गई है। आटा का पांच किलो का पैकेट अब 50-60 रुपये महंगा हो गया है। इसी तरह अन्य सामग्री के दाम भी बढ़ा दिए गए हैं। जबकि सभी माल पुराने स्टॉक का ही है। किराना व्यवसायियों का कहना है कि ट्रकों की आवाजाही नहीं होने से किराना सामान नहीं आ रहा है। इस कारण दुकानों में स्टाक खत्म हो रहा है। जबकि प्रशासन ने राशन सामग्री ले आने या ले जाने पर किसी भी प्रकार की पाबंदी नहीं लगायी। थोक व फुटकर व्यापारी जनता को बेवकूफ बनाकर लूटने का कार्य कर रहे है। लॉकडाउन के दौरान जिला प्रशासन ने किराना व्यापारियों को सुबह 9 से शाम 5 बजे तक दुकान खोलने की छूट दी है। लोगों में भी जरूरत से अधिक सामान खरीदने की होड़ लगी है। इसके चलते व्यापारियों ने भी इसका फायदा उठाते हुए दाम बढ़ा दिए हैं। सबसे ज्यादा दाम आलू-प्याज और खाद्य तेलों के बढ़ाए हैं। कड़वा तेल जो लॉक डाउन से पहले 90 रुपये प्रति लीटर में बिकता था वही अब 120 से 140 रुपये तक में बिक रहा है। लोगों का कहना है प्रशासन द्वारा इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। इस कारण आने वाले दिनों में हालत और गंभीर हो सकते हैं। प्रशासन को ऐसा रास्ता निकालना चाहिए जिससे रोजमर्रा के उपयोग में आने वाले किराना सामान सही दाम में और आसानी से मिल सके। इस सम्बन्ध मे रामाधार,शहीद अहमद, सुरेश बाबू, श्याम किशोर तिवारी, गोरे अग्निहोत्री, गोलू शुक्ला, दिलीप शर्मा, देवेन्द्र कुमार,सुरेश पाण्डेय, रिषी वाजपेयी, अमित शर्मा,राजेन्द्र बहादुर प्रजापति, गंगाराम, राजेश आदि लोगों ने प्रशासन से राशन सामग्री के दाम घटायें जाने के लिए गुहार लगायी है। हिन्दुस्थान समाचार/सुनील/मोहित
... क्लिक »

hindusthansamachar.in

अन्य सम्बन्धित समाचार