खेलो इंडिया शीतकालीन खेलों के पहले संस्करण की मेजबानी लद्दाख और जम्मू कश्मीर को Hindi Latest News 

बड़ी खबरें

खेलो इंडिया शीतकालीन खेलों के पहले संस्करण की मेजबानी लद्दाख और जम्मू कश्मीर को

खेलो इंडिया शीतकालीन खेलों के पहले संस्करण की मेजबानी लद्दाख और जम्मू कश्मीर को

खेलो इंडिया शीतकालीन खेलों के पहले संस्करण की मेजबानी लद्दाख और जम्मू कश्मीर को नई दिल्ली, 13 फरवरी (हि.स.)। खेलो इंडिया शीतकालीन खेलों की मेजबानी केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख और जम्मू कश्मीर को मिली है। खेल मंत्री किरण रिजिजू ने गुरुवार को इसकी घोषणा की। इस महीने लद्दाख और मार्च में जम्मू कश्मीर पहले खेलो इंडिया शीतकालीन खेलों की मेजबानी

करेगा। खेलो इंडिया शीतकालीन खेलों की दोनों प्रतियोगिताओं का खर्चा खेल मंत्रालय उठाएगा। पहली प्रतियोगिता लद्दाख में फरवरी के तीसरे हफ्ते जबकि दूसरी प्रतियोगिता जम्मू कश्मीर में मार्च के पहले हफ्ते में होगी। खेलो इंडिया लद्दाख शीतकालीन खेलों में आईस हाकी चैंपियनशिप, फिगर स्केटिंग और स्पीड स्केटिंग स्पर्धाएं होंगी और इस प्रतियोगिता का आयोजन ब्लाक, जिला और केंद्र शासित स्तर पर किया जाएगा। इन खेलों में लगभग 1700 खिलाड़ियों के हिस्सा लेने की उम्मीद है। खेलो इंडिया जम्मू कश्मीर शीतकालीन खेल गुलमर्ग के कोंगडोरी में लड़के और लड़कियों के लिए चार आयु वर्ग में होंगे। इन खेलों में 19 से 21, 17 से 18, 15 से 16 और 13 से 14 साल के आयु वर्ग के खिलाड़ी अल्पाइन स्कीइंग, क्रास कंट्री स्कीइंग, स्नो बोर्डिंग और स्नोशूइंग स्पर्धाओं में हिस्सा लेंगे। जम्मू कश्मीर खेल परिषद और जम्मू कश्मीर शीतकालीन खेल संघ द्वारा आयोजित इन खेलों में विभिन्न राज्यों और संगठनों की 15 टीमों के लगभग 841 खिलाड़ियों और अधिकारियों के हिस्सा लेने की उम्मीद है। इस मौके पर खेलमंत्री ने कहा, ‘‘युवाओं की उर्जा को सही स्थान पर लगाने के लिए खेलों से अच्छा कोई विकल्प नहीं है। हमने आईस हाकी, फिगर स्केटिंग, स्पीड स्केटिंग जैसे खेलों को शामिल किया है जो ओलंपिक का हिस्सा हैं। समय के साथ हम इन खेलों में चैंपियन तैयार करने में सफल रहेंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मुझे एक और खेलो इंडिया खेलों को शुरू करने की घोषणा करने की खुशी है। यह एक साल में तीसरे खेलो इंडिया खेल होंगे और हमने स्वदेशी खेलों के लिए भी एक प्रतियोगिता के आयोजन की योजना बनाई है।’’ हिन्दुस्थान समाचार/सुनील
... क्लिक »

hindusthansamachar.inNewsDetail?q=bd0feb2c2d22431412683648657eced9