आत्मसमर्पित महिला नक्सली ने की अपने भाई से आत्मसर्मपण की अपील

आत्मसमर्पित महिला नक्सली ने की अपने भाई से आत्मसर्मपण की अपील
आत्मसमर्पित महिला नक्सली ने की अपने भाई से आत्मसर्मपण की अपील

जगदलपुर, 25 जुलाई (हि.स.)। महिला नक्सली दशमी ने पिछले बुधवार को आत्मसर्मपण कर दिया जिसे 12 वर्ष की उम्र से ही नक्सलियों ने अपने संगठन में शामिल कर लिया था। दशमी ने अपने भाई लक्ष्मण से भी नक्सलवाद का रास्ता छोड़कर समाज की मुख्यधारा से जुड़ने की अपील की है। दशमी इस बार राखी का त्योहार अपने भाई के साथ मनाना चाहती है। बताते चलें कि दशमी का भाई दरभा एरिया कमेटी का एलओएस कमांडर है। नक्सलियों से जुड़ी रही आत्मसमर्पित दसमी ने शनिवार को पत्रकारों से बताया कि उसके परिवार में एक भाई है, जिसका नाम लक्ष्मण है। वह भी बचपन से ही नक्सलियों के दलम में शामिल करा लिया गया। वर्तमान में दरभा एरिया कमेटी का एलओएस कमांडर है। दशमी ने अपने भाई लक्ष्मण से अपील की है कि वह भी नक्सलवाद को त्याग कर समाज की मुख्यधारा से जुड़े। दशमी ने यह भी कहा कि आने वाले सप्ताह में भाई बहन के स्नेह और प्यार का त्योहार रक्षाबंधन भी है। वह अपने भाई से चाहती है कि वह पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दे, ताकि इस प्यार भरे त्योहार को साथ में मना सके। बस्तर आईजी सुंदरराज पी ने बताया कि नक्सली हमेशा भोले-भाले ग्रामीणों को अपने दल से जोड़कर हिंसा के रास्ते पर ले जाते हैं। दशमी ने संगठन में 11 साल रहने के बाद आत्मसमर्पण किया है। उन्होने लक्ष्मण से भी हथियार छोड़कर मुख्यधारा में लौटने की अपील की है। हिन्दुस्थान समाचार/राकेशपांडे-hindusthansamachar.in

अन्य खबरें

No stories found.