कोरोना लॉक डाउन में गरीबो और असहायों की मदद कर मानवता मिशाल बनी चित्रकूट पुलिस Hindi Latest News 

बड़ी खबरें

कोरोना लॉक डाउन में गरीबो और असहायों की मदद कर मानवता की मिशाल बनी चित्रकूट पुलिस

कोरोना लॉक डाउन में गरीबो और असहायों की मदद कर मानवता की मिशाल बनी चित्रकूट पुलिस

कोरोना लॉक डाउन में पुलिस का मानवीय चेहरा देख गदगद है जिले के गरीब और असहाय -एसपी अंकित मित्तल की टीम के जनहितकारी कार्यो की हो रही सराहना चित्रकूट,28मार्च (हि.स.)। कोरोना महामारी के संक्रमण की डर से जहाँ 90 फीसदी आबादी लॉक डाउन के चलते अपने -अपने घरो में आइसोलेट है। वही चित्रकूट पुलिस सड़को पर मुस्तैद रहकर नियमों का

कड़ाई से अनुपालन कराने के साथ -साथ बेसहारा, गरीब एवं जरूरतमंदों को खाद्य सामग्री और भोजन पहुंचाने में जुटी है। संकट के दौर में पुलिस के मानवीय चेहरे को देख गरीब जनता की ख़ुशी का ठिकाना नहीं है। बुंदेलखंड के सबसे पिछड़े एवं दस्यु प्रभावित जिले में सुमार चित्रकूट में हमेशा जनता और पुलिस के बीच सामंजस्य का आभाव रहा है। इसी वजह से पाठा के बीहड़ो में चार दशकों तक दुर्दांत ईनामी डकैतों का आतंक रहा है। वही सूबे के तेज तर्रार आईपीएस अधिकारियो में सुमार अंकित मित्तल के चित्रकूट पुलिस अधीक्षक का पदभार सँभालने के बाद जनता और पुलिस के बीच बेहतर समन्वय स्थापित हुआ है। ये उसी का परिणाम है की पाठा के बीहड़ो से जंगलराज का खात्मा हो गया है। मौजूदा समय पूरा देश वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के कहर से जूझ रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा देश में 21 दिनों के लाक डाउन का ऐलान किया गया है। आमजनमानस को कोरोना के खतरे से बचाने के लिए डीएम शेषमणि पांडेय और पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल के नेतृत्व में पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियो की टीम दिन रात डियूटी पर मुस्तैद रहकर लॉक डाउन के नियमों का कड़ाई से अनुपालन कराने में जुटी हुई है। संकट की इस घडी में पुलिस का एक मानवीय चेहरा उभर कर सामने आया है। अपनी खुद की परवाह किये बिना जनता की सुरक्षा में जान लगाये हुए है। एक तरफ पुलिस की टीम लॉक डाउन को सख्ती से लागू कराने में जुटी है। वही दूसरी ओर एसपी अंकित मित्तल के निर्देश पर के भूखे,गरीब और असहाय परिवारों को खाद्य सामग्री एवं भोजन पहुंचाने का सराहनीय कार्य कर रहे है। शनिवार को रात तक पुलिस की टीम गरीबो की मदद में लगी रही। अपर पुलिस अधीक्षक बलवंत चौधरी ने नई दुनियॉ कम्पोजिट विद्यालय कसहाई के दक्षिण में स्थित दैनिक मजदूरों की मलिन बस्ती में रह रहे 14 परिवारों को स्वयं जाकर खाद्य सामग्री(आटा/दाल/चावल/सब्जी इत्यादि) प्रदान किया। वही डिफेंस कैरियर अकादमी लखनऊ में तैयारी करने वाले बच्चों को रोककर शिवरामपुर चौकी प्रभारी अजीत सिंह तथा उनकी टीम ने 118 बच्चों का मेडिकल टीम की सहायता लेकर चेकअप कराया गया और बिस्कुट नमकीन चाय पिलाया। इसके अलावा पहाड़ी थाना के प्रभारी निरीक्षक सुशील चन्द्र मिश्र ने क्षेत्र में निवास करने वाले असहाय एवं गरीबो को खाद्य सामग्री आटा, चावल, दाल, सब्जी आदि का वितरण किया।जबकि कर्वी कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक अनिल कुमार सिंह और उनकी टीम द्वारा कोतवाली क्षेत्र के अन्तर्गत निवास करने वाले बेसहारा, असहाय गरीबों को भोजन का पैकेट वितरित किया।चित्रकूट पुलिस का मानवीय चेहरा देखकर गरीब जनता की ख़ुशी का कोई ठिकाना नहीं है। सभी जगह पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल और उनकी टीम के कार्यो की सराहना हो रही है। वही पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल का कहना है कि जनता की सुरक्षा और गरीबों की मदद पुलिस की जिम्मेदारी है। संकट की घडी में पुलिस पूरी तत्परता के साथ जनता की सेवा में है। कहा कि गरीबो ,असहायों की मदद का कार्य निरंतर जारी रहेगा। हिन्दुस्थान समाचार /रतन/मोहित
... क्लिक »

hindusthansamachar.in