अनुकंपा नियुक्ति को लेकर डीईओ कार्यालय के सामने शिक्षकों ने किया प्रदर्शन
अनुकंपा नियुक्ति को लेकर डीईओ कार्यालय के सामने शिक्षकों ने किया प्रदर्शन
news

अनुकंपा नियुक्ति को लेकर डीईओ कार्यालय के सामने शिक्षकों ने किया प्रदर्शन

news

शिक्षा विभाग पर मड़े कई आरोप, कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन धमतरी, 16 अक्टूबर ( हि.स.)। अनुकंपा नियुक्ति समेत विभिन्न मांगों को लेकर शिक्षकों ने शुक्रवार को डीईओ कार्यालय के सामने प्रदर्शन किया। प्रदर्शन में अनुकंपा नियुक्ति नहीं मिलने वाले परिवार शामिल होकर धरना में बैठकर तत्काल अनुकंपा नियुक्ति देने की मांग की। प्रदर्शन के बाद कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा गया। छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष डाॅ. भूषण लाल चंद्राकर,देवनाथ साहू, शैलेन्द्र पारिक, प्रदीप कुमार साहू, गणेश प्रसाद साहू, गेवाराम नेताम, ज्ञानेश्वर सिन्हा, कैलाश प्रसाद साहू, टीकाराम सिन्हा, नंद कुमार, आशीष नायक, धर्मेंद्र साहू, भगवती प्रसाद सोनी, बी यदु, प्रमिला साहू, ज्ञानेश्वरी साहू, सविता छांटा आदि शिक्षक-शिक्षिकाएं व अनुकंपा नियुक्ति की मांग कर रहे परिवार के सदस्य 16 अक्टूबर को कंपोजिट बिल्डिंग कार्यालय के पास एकत्र हुए। अनुकंपा नियुक्ति में लेट लतीफी समेत विभिन्न मांगों को लेकर शिक्षकों ने जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय कंपोजिट बिल्डिंग का घेराव कर धरना में बैठ गए। अनुकंपा नियुक्ति की मांग कर रहे सभी परिवारों को तत्काल नियुक्ति दिलाने की मांग शिक्षकों ने की। शिक्षकों ने बताया कि अनुकंपा नियुक्ति की मांग वे लंबे समय से कर रहे हैं, लेकिन शिक्षा विभाग द्वारा जरूरतमंदों को समय पर अनुकंपा नियुक्ति नहीं दे रहे हैं। इस संबंध में जिला शिक्षा कार्यालय को कई बार ज्ञापन सौंप चुके हैं, इसके बाद भी ध्यान नहीं दिया जा रहा है। गुपचुप तरीके से कुछ ही लोगों की अनुकंपा नियुक्ति का आदेश जारी किया गया है, जो उचित नहीं है। अनुकंपा नियुक्ति में भेदभाव किया जाना शिक्षा विभाग की कार्यशैली पर कई तरह के सवाल खड़ा करता है। इसके अलावा इन परिवारों को एनपीएस पेंशन समेत कई सुविधाएं का भुगतान नहीं किया गया है। अनुकंपा नियुक्ति वाले सभी प्रकरण का एक साथ निराकरण शिक्षा विभाग द्वारा किया जाए। यदि उनके दस्तावेजों में कुछ खामियां हैं, तो उन्हें मोबाइल के इस जमाने में सूचना देकर तत्काल पूरा करने कहा जाए और एक साथ नियुक्ति आदेश जारी किया जाए। जरूरतमंद को अनुकंपा नियुक्ति नहीं दी जाती है, तो वह धरना से नहीं हटने की चेतावनी दी है। धरना में बैठे शिक्षकों का ज्ञापन लेने सहायक संचालक लक्ष्मण राव मगर पहुंचे थे। लक्ष्मण राव मगर ने कहा कि अनुकंपा नियुक्ति की प्रक्रिया द्रुत गति से जारी है। दस्तावेजों के आधार पर और योग्यता के आधार पर नियमावली के तहत अनुकंपा नियुक्ति जारी की जा रही है। अनुकंपा नियुक्ति के लिए विभाग में लिपिक के 10 प्रतिशत का कोटा पूरा हो चुका है। ऐसे में कई लोग भृत्य के पद के लिए अनुकंपा नियुक्ति नहीं लेना चाहते हैं। शिक्षक पद के लिए अनुकंपा नियुक्ति के लिए शासन की समस्त शैक्षणिक योग्यता टेट, बीएड, डीएड व अन्य योग्यता अनिवार्य है। संघ के पदाधिकारियों ने अंत में कलेक्टोरेट में कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर मांग शीघ्र पूरा कराने की मांग की है। हिन्दुस्थान समाचार / रोशन-hindusthansamachar.in