बड़ी खबरें

यह भी पढ़ें: गंगा-यमुना के धाम में उल्लास बिखेर गई यात्रा

यह भी पढ़ें: गंगा-यमुना के धाम में उल्लास बिखेर गई यात्रा

उत्तरकाशी [जेएनएन]: आपदा के बाद पूरी तरह पटरी से उतरी चारधाम यात्रा इस बार कुछ हद तक पटरी पर लौट आई। वर्ष 2013 की भीषण त्रासदी के बाद वर्ष 2014 की अपेक्षा इस बार गंगोत्री व यमुनोत्री धाम पहुंचने वाले यात्रियों की संख्या में दस गुना का इजाफा हुआ है। इससे न सिर्फ धामों में रौनक लौटी बल्कि यहां के स्थानीय लोगों व व्यापारियों के चेहरे भी खिल उठे। उन्हें उम्मीद है कि आने वाले सीजन में यात्रा और तेजी पकड़ेगी। छह माह की यात्रा के बाद अब शीतकाल के लिए उत्तराखंड के चारों धाम के कपाट बंद होने वाले हैं। अन्नकूट पर्व पर 20 अक्टूबर को सुबह 1145 बजे गंगोत्री धाम के कपाट बंद कर दिए जाएंगे। जबकि भैयादूज
www.jagran.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »

©Copyright Indicus Netlabs 2017. Raftaar ® is a registered trademark of Indicus Netlabs Pvt. Ltd.