बड़ी खबरें

128 बच्चों पर 10 शिक्षक तो 142 को पढ़ा रहा सिर्फ एक

128 बच्चों पर 10 शिक्षक तो 142 को पढ़ा रहा सिर्फ एक

शिक्षकों की नियुक्ति में बच्चों के बजाय शिक्षकों का ख्याल अधिक रखा गया है। किसी ने अपने गांव में तो किसी ने घर के पास पोस्टिंग करा ली है। राजधानी के ही प्राइमरी स्कूल डोंगीतराई में कुल 125 बच्चे हैं। यहां 6 शिक्षक कार्यरत हैं। 2 शिक्षक अतिरिक्त हैं। इसी तरह प्राइमरी स्कूल डूंडा में 128 बच्चों के लिए 10 शिक्षक कार्यरत हैं जबकि मापदंड के हिसाब से 5 शिक्षक होने चाहिए।6 शिक्षक अतिरिक्त हैं। वहीं सरकारी प्राइमरी स्कूल जरवाय रायपुर में पहली से लेकर पांचवीं तक स्कूल संचालित हो रहा है। लेकिन यहां पढ़ाने वाले सिर्फ एक ही शिक्षक की नियुक्ति हो सकी है। अकेला शिक्षक 120 छात्रों को चार-चार अलग-अलग
naidunia.jagran.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »

©Copyright Indicus Netlabs 2017. Raftaar ® is a registered trademark of Indicus Netlabs Pvt. Ltd.