बड़ी खबरें

कैसे थावर चंद गहलोत की जगह रामनाथ कोविंद बन गए मोदी की पसंद 19 जून 2017

रामनाथ कोविंद स्वयंसेवक हैं भाजपा के पुराने नेता हैं संघ और भाजपा में कई प्रमुख पदों पर रहे हैं सांसद रहे हैं एससीएसटी प्रकोष्ठ के प्रमुख का दायित्व भी निभाया है और संगठन की मुख्यधारा की ज़िम्मेदारियां भी वो कोरी समाज से आने वाले दलित हैं यानी उत्तर प्रदेश में दलितों की तीसरी सबसे बड़ी आबादी पहली जाटव और दूसरी पासी है कोविंद पढ़े-लिखे हैं भाषाओं का ज्ञान है दिल्ली हाईकोर्ट के अधिवक्ता के तौर पर उनका एक अच्छा खासा अनुभव है सरकारी वकील भी रहे हैं राष्ट्रपति पद के लिए जिस तरह की मूलभूत आवश्यकताएं समझी जाती हैं वो उनमें हैं और मृदुभाषी हैं कम बोलना और शांति के साथ काम
aajtak.intoday.in
पूरी स्टोरी पढ़ें »

अन्य सम्बन्धित समाचार

aajtak.intoday.in से अधिक समाचार



सबसे लोकप्रिय

©Copyright Indicus Netlabs 2017. Raftaar ® is a registered trademark of Indicus Netlabs Pvt. Ltd.