Breaking News

बड़ी खबरें

जिम्मेदारी से बेपटरी होती रेलवे

जिम्मेदारी से बेपटरी होती रेलवे

खतौली रेलवे स्टेशन से आगे जहां हादसा हुआ वहां पटरी मरम्मत का कार्य चल रहा था पटरी मरम्मत के औजार भी घटनास्थल पर पड़े हुए हैं फिर भी चालक को इसकी कोई जानकारी नहीं दी गई और कलिंग उत्कल एक्सप्रेस चश्मदीदों के अनुसार 100 किमी/घंटा की ज्यादा गति से मरम्मत वाली पटिरयों से गुजरी जिसके चलते हादसा तो तय था इस दुर्घटना में रेल मंत्रालय की लापरवाही स्पष्टत: देखी जा सकती है सबसे महत्त्वपूर्ण यह दुर्घटना तब घटी है जब अगले ही माह सितम्बर में भारत में बुलेट ट्रेन की नींव रखी जानी है हादसे की भयावहता को इससे ही समझा जा सकता है कि रेल का एक डिब्बा बगल के घर में घुसते हुए चौधरी तिलक राम इंटर
www.samaylive.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »

अन्य सम्बन्धित समाचार


©Copyright Indicus Netlabs 2017. Raftaar ® is a registered trademark of Indicus Netlabs Pvt. Ltd.