Breaking News

बड़ी खबरें

आलेख : अंदेशे के भय से अतिरंजित प्रतिक्रिया - ए. सूर्यप्रकाश

आलेख : अंदेशे के भय से अतिरंजित प्रतिक्रिया - ए. सूर्यप्रकाश

पहली नजर में संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावती के सामूहिक विरोध के पीछे कोई तर्क नजर नहीं आ रहा है। प्रदर्शनकारियों ने स्वयं कबूला है कि उन्होंने अभी तक इस फिल्म को नहीं देखा है लेकिन उत्तर भारत के राज्यों में खासकर राजपूत समुदाय और अन्य हिंदू जातियों के लोग सड़कों पर आकर फिल्म को प्रतिबंधित करने की मांग कर रहे हैं। उनकी चिंता इस बात को लेकर ज्यादा है कि संजय लीला भंसाली ने संभवत: अलाउद्दीन खिलजी और रानी पद्मिनी उर्फ पद्मावती के बीच कुछ ऐसे रोमांटिक दृश्य फिल्माए हैं जिनसे हिंदू समुदाय की भावनाएं आहत हो सकती हैं। हालांकि कुछ मीडिया पेशेवरों जिनके लिए फिल्म की विशेष
naidunia.jagran.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »

©Copyright Indicus Netlabs 2017. Raftaar ® is a registered trademark of Indicus Netlabs Pvt. Ltd.