Breaking News

बड़ी खबरें

चीन की बीआरआई परियोजना पर अमेरिकी विशेषज्ञ ने कहा, विरोध करने वाले मोदी अकेले विश्व नेता

चीन की बीआरआई परियोजना पर अमेरिकी विशेषज्ञ ने कहा, विरोध करने वाले मोदी अकेले विश्व नेता

अमेरिका की हिन्द-प्रशांत क्षेत्र पर नई रणनीति की सराहना करते हुए पेंटागन के पूर्व अधिकारी ने कहा कि हाल ही में लोगों ने राष्ट्रपति सहित ट्रंप प्रशासन के सदस्यों को 50 से अधिक बार स्वतंत्र एवं मुक्त हिन्द-प्रशांत क्षेत्र की बात कहते सुना है पिल्स्बरी ने कहा चीन इसका पहले ही विरोध कर चुका है उसे यह पसंद नहीं है बार्डर एंड रोड इनिशिएटिव में 50 अरब डॉलर का चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारा (सीपीईसी) शामिल है जिसका भारत ने विरोध किया है क्योंकि यह पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से होकर गुजरता है पीओके के जरिए परियोजनाओं को आगे बढ़ाने के लिए बीजिंग के इन कदमों के खिलाफ विरोध
www.samaylive.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »

©Copyright Indicus Netlabs 2017. Raftaar ® is a registered trademark of Indicus Netlabs Pvt. Ltd.