बड़ी खबरें

झूठी गवाही देने वाले डॉक्टर को तीन माह का कारावास

जिला न्यायालय में चल रहे एक मामले में न्यायाधीश मोहम्मद अरशद ने झूठी गवाही देने वाले जिला अस्पताल के तत्कालीन मेडीकल ऑफीसर डॉ केबी वाजपेयी को तीन महीने के कारावास की सजा सुनाई है। इसके अलावा एक हजार रुपए का जुर्माना लगाया है। आरोपी डॉ केबी वाजपेयी ने एक पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृत व्यक्ति की मृत्यु आसमानी बिजली तड़कने से होना बताया गया था जबकि मृतक की मृत्यु बिजली का करंट लगने से हुई थी। इस तरह से झूठी गवाही देने पर डॉ केबी वाजपेयी के विरुद्ध न्यायालय ने संज्ञान लेकर आईपीएस धारा 193 के तहत परिवाद दर्ज कर जेएमएफसी न्यायालय में मामला चलाने का आदेश दिया। न्यायालय ने आरोपी डॉ
www.bhaskar.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »


सबसे लोकप्रिय

©Copyright Indicus Netlabs 2017. Raftaar ® is a registered trademark of Indicus Netlabs Pvt. Ltd.