बड़ी खबरें

योग्यता-सत्यापन के पैमाने पर खरा नहीं सहयोगी स्टाफ

योग्यता-सत्यापन के पैमाने पर खरा नहीं सहयोगी स्टाफ

सुशील भाटिया फरीदाबाद : यह आज से ठीक दो वर्ष पहले की बात है जब परिवहन विभाग की ओर से यह निर्देश जारी हुए थे कि सभी स्कूल बसें पूरी तरह से फिट होने के बाद ही सड़कों पर चल सकेंगी। इसके लिए विभाग की ओर से बसों की औचक जांच की बात भी कही गई थी और एक फार्म तैयार किया गया था जिसमें स्कूल प्रबंधकों को संबंधित जानकारी भर कर देनी थी कि उक्त नियमों पर उनकी बसें खरी उतरती हैं। यह फार्म बस में रखने थे। अब यह निर्देश तो जारी हो गए पर शायद ही कभी नियमित रूप से बसों की जांच हुई हो। इसका नतीजा यह है कि बसें जहां यातायात नियमों की उल्लंघना करते हुए सड़कों पर दौड़ रही हैं वहीं बस ड्राइवरों-कंडक्टर और स्कूल
www.jagran.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »

©Copyright Indicus Netlabs 2017. Raftaar ® is a registered trademark of Indicus Netlabs Pvt. Ltd.