बड़ी खबरें

एक था प्रद्युम्न: नहाया, खाया, चादर ओढ़ के सो गया

एक था प्रद्युम्न: नहाया, खाया, चादर ओढ़ के सो गया

सत्येंद्र ¨सह भोंडसी (गुरुग्राम) जिसकी करतूत के चलते पूरा देश दहल रहा है। मासूम प्रद्युम्न के माता-पिता बिलख-बिलख कर सीबीआइ जांच की मांग कर कर रहे हैं। उनके घर सांत्वना देने वाले नेताओं को काफिला हर एक घंटे में पहुंच रहा है। मगर प्रद्युम्न के हत्यारे को जरा सा भी मलाल नहीं कि उसने हैवान बन एक बच्चे की जान लेने के साथ-साथ उसके परिवार के अरमानों का कत्ल कर दिया। वह जेल पहुंचा और विशेष सुरक्षा बैरक में जाते ही वार्डन से नहाने की इच्छा जताई। जेल कर्मचारियों ने अपनी निगरानी में उसे नहाने दिया। हम बात कर रहे रेयान इंटरनेशनल स्कूल भोंडसी के दूसरी कक्षा के छात्र प्रद्युम्न की नृशंस
www.jagran.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »

www.jagran.com से अधिक समाचार


©Copyright Indicus Netlabs 2017. Raftaar ® is a registered trademark of Indicus Netlabs Pvt. Ltd.