बड़ी खबरें

नहीं दूर हो रही परिषदीय विद्यालयों की बदहाली

नहीं दूर हो रही परिषदीय विद्यालयों की बदहाली

कुशीनगर: निजी विद्यालयों की भांति परिषदीय विद्यालयों को बढ़ावा देने के लिए तरह-तरह की सुविधाएं सरकारी विद्यालयों को शासन से मिल रही हैं पर अधिकतर सुविधाएं धन के बंदरबांट तक सिमट जाने से परिषदीय विद्यालयों की बदहाली दूर नहीं हो पा रही है। शिक्षा की गुणवत्ता सुधराने का प्रयास करने के बावजूद जिम्मेदार अधिकारी व कर्मचारी कागजी आंकड़ों को दुरुस्त कराने में ही मशगूल दिखाई देते। इससे बच्चों को फल व दूध उपलब्ध कराने की योजना भी कोरमपूर्ति बन कर रह गई है। पिछली सरकार के दौरान परिषदीय विद्यालयों के साथ ही अनुदान प्राप्त प्राथमिक व जूनियर विद्यालयों में पढ़ रहे बच्चों को सोमवार
www.jagran.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »

©Copyright Indicus Netlabs 2017. Raftaar ® is a registered trademark of Indicus Netlabs Pvt. Ltd.