बड़ी खबरें

दद्दू का दरबार : हवा में मीडिया...

दद्दू का दरबार : हवा में मीडिया...

उत्तर : देखिए धरती पर मारपीट की घटनाएं रोजमर्रा की बात हैं। आज यदि बस स्टैंड पर या  बस में रेलवे स्टेशन पर या रेल में खेत में या खलिहान में स्कूल में या स्कूल के मैदान में  गरीबों की किसी चाल में या फिर अमीरों के किसी मॉल में पिटाई की कोई घटना हो जाए तो  वह मीडिया की खबर बनना तो दूर किसी सांध्यकालीन अखबार के कोने में भी बमुश्किल  स्थान पाती है। सारे टीवी मीडिया के सारे टाइम स्लॉट और प्रिंट मीडिया के सारे पृष्ठ और  कॉलम हत्या बलात्कार और करोड़ों के घोटालों के लिए सुरक्षित हैं। ऐसे में पिटाई जैसा निकृष्ट  कार्य खबर तभी बनता है जब पिटाई का पसंदीदा हथियार जूता किसी आम आदमी के हाथों
hindi.webdunia.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »

©Copyright Indicus Netlabs 2017. Raftaar ® is a registered trademark of Indicus Netlabs Pvt. Ltd.