बड़ी खबरें

आदिवासी क्षेत्रों में नहीं होगा ब्याज का धंधा, साहूकारी पर लगेगी रोक

आदिवासी क्षेत्रों में नहीं होगा ब्याज का धंधा, साहूकारी पर लगेगी रोक

प्रदेश सरकार जल्द ही अनूसचित (आदिवासी बहुल) क्षेत्रों में साहूकारी (ब्याज का धंधा) के काम पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाने जा रही है। इसके बाद इन क्षेत्रों में यदि कोई ब्याज का काम करता पाया जाएगा तो पहली बार में दो हजार रुपए जुर्माना लगाया जाएगा।दूसरी बार में जुर्माने की राशि पांच हजार रुपए हो जाएगी और दो साल कैद की सजा भी सुनाई जा सकती है। साहूकारी के लिए पंजीयन का अधिकार पंचायतों को होगा। ब्याज दर क्या ली जाएगी इसका फैसला भी सरकार ही करेगी। इसके लिए सरकार ने साहूकारी अधिनियम में बदलाव करने की मंजूरी के लिए प्रस्तावित मसौदा राष्ट्रपति को भेजा है। मंजूरी मिलते ही इसे विधानसभा
naidunia.jagran.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »

अन्य सम्बन्धित समाचार


©Copyright Indicus Netlabs 2017. Raftaar ® is a registered trademark of Indicus Netlabs Pvt. Ltd.