बड़ी खबरें

जानिए, बैंकिंग और फाइनेंशियल सेक्टर के लिए क्यों अहम है संसद का मॉनसून सत्र

जानिए, बैंकिंग और फाइनेंशियल सेक्टर के लिए क्यों अहम है संसद का मॉनसून सत्र

फाइनेंशियल रेजोल्यूशन एंड डिपॉजिट इंश्योरेंस बिल 2017 को भी सदन में रखा जाना है जो कि बैंकों इंश्योरेंस कंपनियों और दूसरी फाइनेंशियल इकाइयों में बैंकरप्शी (दिवालिएपन) से निपटने के लिए एक रेजोल्यूशन कॉरपोरेशन बनाएगा यह सरकार की प्रायरिटी लिस्ट में है फाइनेंशियल रेजोल्यूशन एंड डिपॉजिट इंश्योरेंस बिल को केंद्रीय कैबिनेट ने 14 जून को मंजूरी दी थी इसके अलावा नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्चर एंड रूरल डिवेलपमेंट (अमेंडमेंट) बिल 2017 भी सरकार के एजेंडे में है फाइनेंस मिनिस्टर अरुण जेटली ने बजट सत्र के दौरान लोकसभा में इस बिल को पेश किया था इस बिल का मकसद नाबार्ड की अधिकृत पूंजी को 5000
hindi.news18.com
पूरी स्टोरी पढ़ें »

©Copyright Indicus Netlabs 2017. Raftaar ® is a registered trademark of Indicus Netlabs Pvt. Ltd.