बड़ी खबरें

अमरीकी राष्ट्रपति की बेटी इवांका के दौरे से पहले भिखारी मुक्त देश का शहर बनेगा हैदराबाद

अमरीकी राष्ट्रपति की बेटी इवांका के दौरे से पहले भिखारी मुक्त देश का शहर बनेगा हैदराबाद

राज्य संस्थान सुधारक के मुताबिक इसका उद्देश्य शहर को भिखारी मुक्त बनाना है और भिखारियों की पहचान कर उनके पुनर्वास का प्रबंध करना है। साथ ही पहचान पत्र बनवाकर उन्हें संवैधानिक प्रक्रिया से जोड़ना भी इसका मकसद है। उन्होंने यह भी बताया कि जेल और सेवा सुधारक महानिदेशक वीके सिंह ने तेलंगाना सरकार को पत्र लिखकर कहा था कि वे भिखारियों की पुनर्वास की व्यवस्था कर रहे हैं। भिखारियों के फोटो पहचान पत्र और फिंगर प्रिंट के साथ आधार कार्ड भी बनवाए जाएंगे। मानसिक और शारीरिक रूप से विक्षिप्त भिखारियों को इलाज और पुनर्वास के लिए विभिन्न एनजीओ से जोड़ा जाएगा। पुलिस का यह भी कहना है कि
www.punjabkesari.in
पूरी स्टोरी पढ़ें »

अन्य सम्बन्धित समाचार


©Copyright Indicus Netlabs 2017. Raftaar ® is a registered trademark of Indicus Netlabs Pvt. Ltd.