बड़ी खबरें

+ क्रोध एक मानसिक विकार है

क्रोध एक मानसिक विकार है जिस प्रकार बाहरी रोग के लिए हमें दवा की जरूरत होती है उसी प्रकार क्रोध की दशा से मानव पूरे जीवन बीमार रहता है सिर्फ उसे क्षमा रूपी दवा का प्रयोग ही इस बीमारी को ठीक कर सकता है आज दान बाड़ी दादाबाड़ी में बुद्धसिंह बाफना हॉल में क्रोध पर नियंत्रण विषय पर प्रवचन करते हुए यह उद्गार परम पूज्य साध्वी वैराग्य निधि जी ने प्रकट किए श्री जैन श्वेतांबर पेडी की दादावाड़ी दान बाड़ी में चातुर्मास योग के दौरान अपनी प्रवचनमाला में क्रोध विषय पर बोलते हुए उन्होंने कहा क्रोध आग के समान है और उसे क्षमा रूपी जलधारा से ही शांत किया जा सकता है अगर सामने वाला व्यक्ति क्रोध
www.pressnote.in
पूरी स्टोरी पढ़ें »


सबसे लोकप्रिय

©Copyright Indicus Netlabs 2017. Raftaar ® is a registered trademark of Indicus Netlabs Pvt. Ltd.